मोदी सरकार ने प्रचार में खर्च किए 5,245.73 करोड़

Photo: Google

न्यूज 24 ब्यूरो, नई दिल्ली (28 दिसंबर): विपक्ष हमेशा से मोदी सरकार पर किसी भी कार्य का जरूरत से ज्यादा गुणगान करने का आरोप लगाता रहा है। उनका कहना है कि सरकार प्रचार में करोड़ रुपये बेवजह ही खर्च करने में लगी है। अब इसकी जानकारी भी मिल गई है कि मोदी सरकार ने पिछले पांच वर्षों में अपनी योजनाओं के प्रचार पर कितना पैसा खर्च किया है। सूचना एवं प्रसारण मंत्री राज्यवर्धन राठौड़ ने लोकसभा को बताया कि 2014 से 7 दिसंबर, 2018 के बीच सरकारी योजनाओं के प्रचार पर कुल 5,245.73 करोड़ रुपये खर्च हुए हैं।

इसी मुद्दे पर एक सवाल के जवाब में राठौड़ ने कहा, 'विभिन्न मंत्रालयों एवं विभागों द्वारा चलाई जा रही योजनाओं के बारे में लक्षित लाभार्थियों के बीच प्रचार एवं उनकी जागरूकता के लिए सूचना, शिक्षा एवं संचार के कंपोनेंट होते हैं। इन्फर्मेशन ऐंड ब्रॉडकास्टिंग मिनिस्ट्री के तहत ब्यूरो ऑफ आउटरीच ऐंड कम्यूनिकेशन सूचना, शिक्षा एवं संचार के अभियान चलाता है। ऐसा लक्षित लाभार्थियों एवं बजट की उपलब्धता आदि पर मंत्रालयों एवं विभागों के साथ बातचीत के मुताबिक किया जाता है।'

ब्यूरो ऑफ आउटरीच ऐंड कम्यूनिकेशन ने 2014 से अलग-अलग मंत्रालयों एवं विभागों की ओर से विभिन्न संचार माध्यमों के जरिए ऐसे सूचना, शिक्षा एवं संचार अभियानों पर कुल रकम खर्च किया।