Blog single photo

हिरासत में लिए अमेरिका पहुंचे 52 भारतीय, जानें वजह

बेहतर जीवन की तलाश में अमेरिका पहुंचे 52 भारतीयों समेत 123 अप्रवासी ट्रंप प्रशासन की नई आव्रजन नीति के फेर में फंस गए हैं। इन्हें हिरासत में ले लिया गया है। इनमें ज्यादातर दक्षिण एशियाई बताए जा रहे हैं। अमेरिकी मीडिया के अनुसार, 123 अप्रवासियों को ओरेगन प्रांत के यमहिल काउंटी की शेरिडान जेल में रखा गया है। गैरकानूनी तरीके से हिरासत में लिए 52 भारतीयों में ज्यादातर सिख हैं।

न्यूज24 ब्यूरो, नई दिल्ली ( 20 जून ): बेहतर जीवन की तलाश में अमेरिका पहुंचे 52 भारतीयों समेत 123 अप्रवासी ट्रंप प्रशासन की नई आव्रजन नीति के फेर में फंस गए हैं। इन्हें हिरासत में ले लिया गया है। इनमें ज्यादातर दक्षिण एशियाई बताए जा रहे हैं। अमेरिकी मीडिया के अनुसार, 123 अप्रवासियों को ओरेगन प्रांत के यमहिल काउंटी की शेरिडान जेल में रखा गया है। गैरकानूनी तरीके से हिरासत में लिए 52 भारतीयों में ज्यादातर सिख हैं।ऑरेगॉन के डेमोक्रैटिक सांसदों के दल ने शनिवार को शेरिडन में स्थित इस डिटेंशन सेंटर का दौरा किया था। महिला सांसद सुजैन ने अपने ब्लॉग में खुलासा करते हुए बताया कि इस सेंटर में गैरकानूनी रूप से अमेरिका पहुंचे विदेशियों को रखा गया है।उन्होंने बताया कि यहां करीब 123 लोग कैद हैं, जिनमें भारतीयों की संख्या सबसे ज्यादा है। इनमें काफी लोग सिख और ईसाई हैं। सांसदों ने बताया कि इन लोगों को बेहद अमानवीय हालात में रखा गया है। इन्हें दिन में 22-22 घंटे तक छोटी-छोटी जेलों में कैद रखा।सांसद ने बताया कि ये सभी धार्मिक स्वतंत्रता पाने के लिए अमेरिका आएं हैं। इनमें से अधिकांश लोगों को अपने देश में हिंसा या उत्पीड़न का सामना करना पड़ रहा है। कुछ लोग अपनी पत्नी और बच्चों के साथ सीमा तक आए लेकिन अब उन्हें यह नहीं पता कि परिवार के सदस्य कहा हैं।

Tags :

NEXT STORY
Top