सीरिया में सैनिक हमले में 127 बच्चों समेत 510 लोगों की मौत

नई दिल्ली (27 फरवरी): संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद (यूएनएससी) की ओर से सीरिया में 30 दिनों के राष्ट्रव्यापी युद्ध विराम की मांग के प्रस्ताव को मंजूरी दिए जाने के बावजूद भी क्षेत्र में शांति बहाली नहीं हुई। मंज़ूरी मिलने के कुछ घंटों बाद ही राजधानी दमिश्क के पास के विद्रोहियों के कब्जे वाले पूर्वी घौटा में रविवार को सीरियाई सरकार की सेना ने हवाई हमले व बमबारी जारी रखी।

सरकारी फौजी दस्तों और जैश अल-इस्लाम (इस्मी फौज) के बीच भिडंत के बावजूद एसओएचआर ने बताया कि पूर्वी घौटा में सरकारी फौजी दस्तों के हमले तेज होने के बाद से शनिवार की रात क्षेत्र में सबसे अधिक शांति थी और वहां कोई हताहत नहीं हुआ। 

यूएनएससी ने शनिवार को पूर्वी घौटा समेत सीरिया में 30 दिनों का राष्ट्रव्यापी युद्ध विराम की मांग को सर्वसम्मति से मंजूरी दी थी। ताजा आंकड़ों के मुताबिक, पूर्वी घौटा में किए जा रहे तेज हमलों में एक सप्ताह के भीतर 127 बच्चों समेत करीब 510 लोग मारे गए हैं।