पीएनबी फ्रॉड: CBI की दूसरी FIR में बड़ा खुलासा, 2017-18 में 5000 करोड़ का घोटाला संभव

नई दिल्ली (17 फरवरी): नीरव मोदी के शोरूम्स से 5100 करोड़ के हीरे-जवाहरात सीज होने के एक दिन बाद पंजाब नेशनल बैंक घोटाला मामले में सीबीआई ने दूसरी एफआईआर दर्ज की है। सीबीआई ने शुक्रवार को अलग-अलग राज्यों में गीतांजलि ग्रुप के 20 ठिकानों पर छापे मारे हैं।

पीएनबी के महाघोटाले में रोजाना नए-नए तथ्य निकलकर सामने आ रहे हैं। जहां कांग्रेस और बीजेपी दोनों इस घोटाले को लेकर एक-दूसरे पर आरोप-प्रत्यारोप लगा रहे हैं, वहीं इस घोटाले को लेकर अब एक और सनसनीखेज खबर सामने आई है। पीएनबी घोटाले को लेकर सीबीआई की एफआईआर में एनडीए राज का जिक्र किया गया है। इसमें कहा गया है कि 5000 करोड़ का घोटाला एनडीए राज में संभव है। पीएनबी घोटाला ही 11,500 करोड़ रुपये का है।

यह मामला पंजाब नेशनल बैंक की मुंबई शाखा से जारी 143 साख पत्रों से संबंधित है। इन साखपत्रों के आधार पर धोखाधड़ीपूर्ण तरीके से 4,886 करोड़ रुपये जारी किये गये। यह राशि तीन कंपनियों गीतांजलि जेम्स, नक्षत्र और गिली को 2017-18 में जारी की गई।