Blog single photo

बिहार के छपरा में ट्रेन से 50 से ज्यादा मानव खोपड़ी और कंकाल बरामद

इस समय देश में तहलका मचाने वाली एक खबर बिहार के छपरा से सामने आ रही है, यहां पर पुलिस ने रेल से करीब 50 की तादाद में इंसानी खोपड़ी बरामद की है। इस मामले में एक शख्स को भी गिरफ्तार

Photo: Google

न्यूज 24 ब्यूरो, नई दिल्ली (28 नवंबर):  इस समय देश में तहलका मचाने वाली एक खबर बिहार के छपरा से सामने आ रही है, यहां पर पुलिस ने रेल से करीब 50 की तादाद में इंसानी खोपड़ी बरामद की है। इस मामले में एक शख्स को भी गिरफ्तार किया है और उससे पूछताछ की जा रही है।

Photo: Google

सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार, पुलिस उपाधीक्षक (रेलवे) तनवीर अहमद ने मंगलवार को बताया कि पूर्वी चम्पारण जिले के निवासी संजय प्रसाद (29) से नरकंकाल बरामद किए गए, जिसे जीआरपी की टीम ने छपरा जंक्शन से गिरफ्तार किया। अहमद ने बताया कि प्रसाद से 16 मानव खोपड़ी और 34 कंकाल बरामद किए गए। इसके अलावा उसके कब्जे से भूटान की मुद्रा, विभिन्न देशों के एटीएम कार्ड तथा एक विदेशी सिम बरामद किया गया।

Photo: Google

पुलिस उपाधीक्षक ने बताया कि पूछताछ के दौरान प्रसाद ने बताया कि उसने उत्तरप्रदेश के बलिया से इन कंकालों को खरीदा था और पश्चिम बंगाल के जलपाईगुड़ी होते हुए भूटान जा रहा था। उन्होंने कहा कि प्रसाद संभवत: उस गिरोह का हिस्सा था जो हिमालयी देश में तांत्रिकों को नरकंकाल की आपूर्ति करते हैं। उसे जेल भेज दिया गया है और उसके सहयोगियों की तलाश के लिए जांच जारी है।

Photo: Google

आपको बता दें कि कुछ महीने पहले पश्चिम बंगाल के बर्धमान जिले के पूरबस्थली शहर में पुलिस ने एक घर से 18 नरकंकाल जब्त किए थे। इस मामले में चार लोगों को गिरफ्तार किया गया। कालना के उपमंडलीय पुलिस अधिकारी (एसडीपीओ) नितिन सिंघानिया ने बताया कि गुप्त सूचना के आधार पर पुलिस के एक दल ने पूरबस्थली में नंदा कॉलोनी के एक घर पर छापा मारा और 18 कंकाल जब्त किए। उन्होंने बताया कि कंकाल आपूर्ति का अवैध कारोबार चलाने के आरोप में चार लोगों को गिरफ्तार किया गया। एसडीपीओ ने बताया कि तापस पाल और उसका सहयोगी मनोज विश्वास मानव कंकाल का अवैध कारोबार करते थे।

Tags :

NEXT STORY
Top