50 पैसे बना रहे थे 5 रुपये के नकली सिक्के, घर में लगा रखी थी मशीन

नई दिल्ली (8 मई): अभी तक 500 और 2000 रुपये के नकली नोटों के पकड़े जाने की खबर सुनी या पढ़ी होगी, लेकिन राजस्थान में उदयरपुर के पास पुलिस ने घाणेराव की घाटी स्थित एक मकान में 5 रुपए के नकली सिक्के बनाने वाली फैक्ट्री पकड़ी है।


यह आरोपी घर में ही 11 टन की मशीन लगाकर नकली सिक्के बना रहा था। पुलिस के मुताबिक आरोपी ने पिछले 11 महीने में 5 लाख रुपए से ज्यादा के सिक्के टोल नाकों सहित अन्य स्थानों पर फुटकर राशि के नाम पर वितरित कर चुका है। आपको बता दें कि यह आरोपी एक सिक्के पर साढ़े चार रुपए का मुनाफा कमाता था।


पुलिस ने बताया कि ललित सोनी ने शिवलाल सोनी के साथ मिलकर राजकोट से सिक्के बनाने वाली 11 टन की यह मशीन 2 लाख 93 हजार रुपए में खरीद कर लाई थी। इसे ललित के घर में लगाने के बाद शिवलाल सोनी पांच रुपए का सिक्के की छाप बनाने वाली डाई और कच्चा माल लेकर आया था। इस माल से यहां पांच रुपए के नकली सिक्के बनाए जाते थे। शिवलाल सोनी और सौरभ जैन दस-दस किलो सिक्के थैले में भरकर ले जाते थे और टोल नाकों और बाजार में फुटकर राशि के नाम से सिक्के बेच बाजार में वितरित कर देते थे।