देश में यहां मिले सोने के 5 नए खजाने

रांची(2 जनवरी): झारखंड के रांची में सोने के पांच नए भंडार मिले हैं। ये खजाने कुबासाल, सोनापेट, जारगो और सेरेंगडीह तथा सरायकेला-खरसावां जिले के जिलगडा में मिले हैं।

- भारतीय भूगर्भ सर्वेक्षण ने यहां सोने की खान की गहन खोज का प्रस्ताव केंद्र सरकार को भेजा है। 

- भारतीय भूगर्भ सर्वेक्षण यानी जीएसआई के भूतत्ववेत्ताओं को प्रारंभिक जांच में इन पांचों स्थानों पर सोने मिलने की पुष्टि हुई है। चट्टानों के ऊपरी नमूनों के परीक्षण ने यहां सोने के बड़े भंडार होने की संभावना जगाई है। इस आधार पर यहां खोने की गहन खोज जरूरी हो गई। इसी से यहां जमीन के अंदर और ऊपर सोने के भंडार की सही मात्र का पता लगाया जा सकता है। इस खोज में करोड़ों रुपए खर्च होंगे। जीएसआई ने केंद्र सरकार को इसके लिए प्रस्ताव भेजा है।

- सोने के नए भंडार वाले स्थान कुबासाल और सोनापेट रांची-टाटा रोड में रड़गांव से दाहिनी ओर डेढ़ किलोमीटर की दूरी पर हैं। यह नक्सल प्रभावित इलाका माना जाता है। वहीं जारगो और सेरेंगडीह गांव तमाड़ के बगल में है। जिलिगडा में मिली सोने की खान सरायकेला-खरसावां जिले में खरसावां-कुचाय रोड में खरसावां से 18 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है।

- भारतीय भूगर्भ सर्वेक्षण की ओर से केंद्र सरकार को भेजे गए खोज के प्रस्ताव को अगर हरी झंडी मिल जाती है तो इसकी पूरी परियोजना तैयार की जाएगी। इसके तहत चट्टानों की गहन रासायनिक जांच कर यह पता लगाया जाएगा कि किस तरह के चट्टानों में सोने की कितनी मात्र है। इसे कैसे निकाला जा सकता है। उससे यह पता चलेगा जमीन के नीचे या ऊपर किस हिस्से में कितना सोना है। अगला चरण सोने की गुणवत्ता और उसकी मात्र का पता लगाने का होगा। इस पूरी प्रक्रिया में कम से कम दो साल लगेंगे।