क्रिकेट के 5 ऐसे रिकॉर्ड जिनका टूटना लगभग नामुमकिन है

नई दिल्ली (17 नवंबर): क्रिकेट के हर फार्मेट में हर दिन कोई न कोई नया रिकॉर्ड बनता है तो कई रिकॉर्ड टूटते भी हैं। एक कहावत है कि रिकॉर्ड टूटने के लिए ही बनते हैं, लेकिन कुछ ऐसे भी रिकॉर्ड हैं जिनका टूटना लगभग नामुमकिन है, लेकिन ऐसा नहीं है कि यह रिकॉर्ड टूट नहीं सकते हैं, फिलहाल इन रिकॉर्ड के आस-पास कोई भी नज़र नहीं आ रहा हैं।

इसी कड़ी में हम आपको क्रिकेट के ऐसे 5 रिकॉर्ड के बारे में बताने जा रहे हैं जिनका टूटना लगभग नामुमकिन है।

1. सचिन तेंदुलकर के शतकों का शतक

 सचिन तेंदुलकर ने अपने इंटरनेशनल क्रिकेट करियर में शतक का शतक बनाया। तेंदुलकर के 100 शतकों के रिकॉर्ड को तोड़ना लगभग नामुमकिन है। तेंदुलकर के इस रिकॉर्ड के सबसे करीब पहुंचने वाले खिलाड़ी रिकी पोंटिग रहे जिन्होने कुल 71 शतक बनाए यानी वो भी सचिन से 29 शतक पीछे रहे। तो इस रिकॉर्ड का टूटना लगभग नामुमकिन है। विराट कोहली के अभी कुल शतक 49 हैं और फिलहाल वह सचिन से बहुत दूर हैं। 

________________________________________________________________________________________________________________________

2. श्रीलंका का एक पारी में सबसे ज्यादा रन का रिकॉर्ड

श्रीलंका ने भारत के खिलाफ टेस्ट मैच की एक पारी में 952-6 का स्कोर बनाया था। ये टेस्ट क्रिकेट में किसी टीम द्वारा बनाया गया सबसे बड़ा स्कोर था। श्रीलंका के रनों के इस मैमाथ स्कोर की बराबरी करना किसी भी टीम के लिए किसी असंभव चुनौती से कम नहीं है।

________________________________________________________________________________________________________________________

3.ब्रायन लारा के एक पारी में 400 रन

 टेस्ट क्रिकेट की एक पारी में सबसे ज्यादा रन बनाने का रिकॉर्ड वेस्टइंडीज के महान बल्लेबाज ब्रायन लारा के नाम है। लारा ने 2004 में इंग्लैंड के खिलाफ एक पारी में 400 रन बनाकर इतिहास रच दिया था। इस रिकॉर्ड का टूटना भी लगभग नामुमकिन है। 

________________________________________________________________________________________________________________________

4. सर डॉन ब्रेडमैन का 99.94 का औसत

टेस्ट करियर में 99.94 का औसत चौंक गए ना। सर डॉन ब्रेडमैन का ये रिकॉर्ड काफी लंबे समय से टिका हुआ है और कोई भी बल्लेबाज इसके आस पास भी नहीं फटक पाया है। ब्रेडमैन ने करियर में 99.94 की औसत से रन बनाए थे। ब्रेडमैन के बाद कोई भी बल्लेबाज इस औसत से रन नहीं बना पाया।

________________________________________________________________________________________________________________________

5. मुरलीधरन के 800 विकेट

विश्व के सबसे महान गेंदबाज श्रीलंकाई ऑफ स्पिनर मुथैया मुरलीधरन के 800 टेस्ट विकेटों रिकॉर्ड भी उन रिकॉर्ड्स की लिस्ट में शामिल है जिनका टूटना लगभग असंभव है। मुरली ने 133 टेस्ट मैचों में 800 विकेट चटकाए थे।