400 चमगादड़ों के साथ रहती है ये महिला, नहीं है 'निपाह' का डर

नई दिल्ली ( 25 मई ): एक तरफ निपाह वायरस की वजह से  पूरे देश में दहशत फैल हुआ है। चमगादड़ से फैलने वाले वायरस के चलते जांच की जा रही है। ऐसे में गुजरात के अहमदाबाद के एक गांव की बुजुर्ग महिला ने चमगादड़ को अपना परिवार बना लिया है और वह इनसे अलग होने के मूड में नहीं हैं। उनका दो कमरे का घर है और वह अपने घर में 400 चमगादड़ों के साथ रहती हैं।राजपुर गांव अहमदाबाद से करीब 50 किमी दूर स्थित है। 400 चमगादड़ों के साथ रहने वाली शांताबेन प्रजापति की उम्र 74 साल है। उनको इस शौक के कारण गांव के लोग चमगादड़ के साथ रहने वाली दादी बुलाते हैं।शांताबेन के घर में ग्राउंड और फर्स्ट फ्लोर की चारों दीवारों पर चमगादड़ चिपके हुए दिखाई पड़ते हैं। एक दशक पहले चमगादड़ों ने उनके घर की एक बिना प्लास्टर वाली दीवार को अपना घर बना लिया। पहली बार वह इन्हें देखकर डर गई थीं। विशेषज्ञों ने इनकी पहचान बड़े चूहे जैसी पूंछ वाले चमगादड़ के रूप में की जो रात में उड़ते हैं और तड़के सवेरे वापस आ जाते हैं।