पीएमओ के फर्जी ID कार्ड के साथ सेवा भवन में घुसने के प्रयास में चार लोग गिरफ्तार, NIA कर रही पूछताछ

न्यूज 24 ब्यूरो, नई दिल्ली (20 जुलाई): राजधानी दिल्ली के अति सुरक्षित सेना भवन में शुक्रवार शाम पीएमओ के फर्जी आईडी कार्ड के साथ घुसने की कोशिश कर रहे चार संदिग्धों को हिरासत में लिया गया है। चारों संदिग्धों को वहां मौजूद सुरक्षाकर्मियों ने शक होने पर पकड़ा और वरिष्ठ अधिकारियों को सूचित किया। इसके बाद आतंकी मामलों की जांच के लिए गठित की गई नेशनल इनवेस्टिगेटिव एजेंसी (एनआईए), स्पेशल सेल व केंद्रीय खुफिया इकाइयां सघन पूछताछ कर रही हैं। इनके पास से फर्जी आईडी कार्ड व कुछ दस्तावेज बरामद हुए हैं।पुलिस सूत्रों के मु़ताबिक हिरासत में लिए गए आरोपियों में से एक खुद को खुफिया एजेंसी का कर्मचारी बता रहा था। लेकिन आईडी कार्ड देखने पर सुरक्षाकर्मियों को उस पर शक हो गया और उससे पूछताछ करने लगे। इस दौरान वह कोई संतोषप्रद जवाब नहीं दे पाया तो सुरक्षाकर्मियों ने वरिष्ठ अधिकारियों व पुलिस को सूचित किया। सूचना मिलते ही साऊथ एवेन्यू थाना पुलिस ने आरोपियों को हिरासत में ले लिया और स्पेशल सेलव केंद्रीय खुफिया इकाइों को सूचित किया। खबर लिखे जाने तक आरोपियों से पूछताछ की जारी थी।पुलिस के मुताबिक शुक्रवार शाम को पांच बजे एक गाड़ी जबरन सेना भवन में घुसने  का प्रयास कर रही थी। इस पर वहां मौजूद सुरक्षाकर्मियों ने गाड़ी को रोका और ड्राइवर से पूछताछ की तो उसने बताया कि गाड़ी में लेफ्टिनेंट कर्नल अभिमन्यु शर्मा बैठे हैं। वहां मौजूद सुरक्षाकर्मियों ने लेफ्टिनेंट कर्नल ने आईडी कार्ड दिखाने के लिए कहा तो उन्होंने पीएमओ का आईडी कार्ड सुरक्षाकर्मियों को दिया।गाड़ी में उनके साथ एक महिला बैठी थी, पूछने पर लेफ्टिनेंट कर्नल अभिमन्यु शर्मा ने उस महिला को अपनी पत्नी हरजिंदर कौर बताया। लेकिन शक होने पर सुरक्षाकर्मियों ने गाड़ी को रोक कर लेफ्टिनेंट कर्नल अभिमन्यु शर्मा कुछ सवाल जवाब किए। जिनका संतुष्ट जवाब वह नहीं दे सके। ऐसे में सुरक्षाकर्मियों ने गाड़ी में मौजूद ड्राइवर सोनी, संदीप, हरजिन्द्र कौर और खुद को लेफ्टिनेंट कर्नल अभिमन्यु शर्मा बताने वाले शख्स को हिरासत में ले लिया गया। पूछताछ में उस शख्स ने अपना नाम अमित शर्मा बताया।पूछताछ में आरोपी ने बताया कि अमित शर्मा गाजियाबाद निवासी है और वह पहले भी कई बार सरकारी कर्यालयों में घुसता रहा है। ऐसे में सुरक्षाकर्मियों ने तुंरत मामले की सूचना दिल्ली पुलिस को दी। मौके पर पहुंची पुलिस ने अमित शर्मा और उसके सहयोगियों को दिल्ली को सौंप दिया। फिलहाल पुलिस आरोपियों से पूछताछ कर रही है। मामले की सूचना मिलने के बाद स्पेशल सेल और एनआईए के अधिकारी आरोपियों से पूछताछ में जुटे थे।