रिटर्न न भरने वाली 4 लाख कंपनियों पर गिरेगी गाज़ !

नई दिल्ली (18 अप्रैल): कुल 11 लाख सक्रिय भारतीय कंपनियों में एक तिहाई से भी ज्यादा पर उनका रजिस्ट्रेशन रद्द होने का खतरा मंडरा रहा है। ये कंपनियां तीन साल के रिटर्न्स फाइल करने में नाकामयाब रही हैं और अब फर्जी कंपनियों पर प्रहार के तहत इनपर कार्रवाई की प्रक्रिया शुरू हो चुकी है। 


पिछले महीने से ही वैसी चार लाख से ज्यादा कंपनियों को नोटिस भेजे जा रहे हैं जिन्होंने कंपनियों के रजिस्ट्री ऑफिस में वित्त वर्ष 2013-14 और वित्त वर्ष 2014-15 में रिटर्न्स फाइल नहीं किए।। इन कंपनियों ने वित्त वर्ष 2015-16 के भी रिटर्न्स फाइल नहीं किए, हालांकि अभी रिटर्न्स फाइल की मियाद बची है।