#News24conclave: 'राम मंदिर पर सभी पक्षों को मान्य होगा सुप्रीम कोर्ट का फैसला'

नई दिल्ली (13 मई): न्यूज 24 के खास कार्यक्रम 'तीन साल मोदी सरकार' में राम मंदिर के मुद्दे पर भी जमकर चर्चा हुई। बीजेपी नेता विनय कटियार, कांग्रेस नेता राजबब्बर, वीएचपी नेता सुरेंद्र जैन और मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड के सचिव जफरयाब जिलानी ने इस मुद्दे पर जमकर अपना पक्ष रखा। न्यूज 24 के कॉनक्लेव में बीजेपी के नेता विनय कटियार ने जहां साफ कहा कि अयोध्या में राम जन्म भूमि पर मंदिर ही मंदिर बनेगा, वहीं अन्य लोगों ने कहा कि अदालत को जो भी फैसला होगा वो उन्हें मंजूर होगा।


चर्चा में शामिल कांग्रेस नेता राजबब्बर ने कहा कि मामले की सुनावाई कोर्ट में चल रहा है और सभी पक्षों को कोर्ट का फैसला मंजूर होना चाहिए। साथ ही उन्होंने इस मसले पर बीजेपी पर राजनीति करने का भी आरोप लगाया।

राजबब्बर की बड़ी बातें...

- राममंदिर का मुद्दा एक साजिश के तहत शुरू हुआ

- गांवों में जो सांड़ खुल्ला घूमता है, उसका भी कोई मालिक होता है

- राजीव गांधी ने ताले नहीं खुलवाए थे, अदालत के आदेश को मानते हुए ऐसा किया गया था

- किस ने कहा कि अयोध्या या कहीं पर राम मंदिर नहीं बनना चाहिए

- अयोध्‍या में बहुत से मंदिर हैं। एक मंदिर और बन जाएगा तो क्या होगा

 - कुछ लोग 20 प्रतिशत की राजनीति करते हैं और कुछ 80 फीसदी की राजनीति करते हैं

- कांग्रेस पार्टी ने कानून के किसी फैसले को मना नहीं किया

- इस देश के लोगों को विकास चाहिए

- विनय कटियार को आज बीजेपी में हाशिए पर कर दिया गया है


वहीं वीएचपी नेता सुरेंद्र जैन ने कहा कि राम मंदिर उनका कौर इश्यू है और उन्हें पूरा भरोसा है कि अयोध्या में राम मंदिर बनकर रहेगा। सुरेंद्र जैन ने कहा कि केंद्र में मोदी और राज्य में योगी सरकार है ऐसे में पूरी संभावना है कि जल्द ही अयोध्या में भव्य राम मंदिर बनेगा।

सुरेंद्र जैन की बड़ी बातें...

- अमित शाह ने बार-बार कहा है कि राम मंदिर हमारा कौर इश्यू है

- केंद्र में मोदी और यूपी में योगी, जरूर गुल खुलाएंगे

- सरकारी आदेश के बाद राम मंदिर का निर्माण हो

- केंद्र में मोदी,राज्य में योगी, मुझे पूरा विश्वास है इनके नेतृत्व में भव्य राम मंदिर बनेगा

कांग्रेस ने राम की औलादों को बाबर के साथ जोड़ा है


उधर न्यूज 24 के इस कॉनक्लेव शामिल मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड के सचिव जफरयाब जिलानी ने कहा कि बाबर मुसलमानों का आदर्श नहीं था। उन्होंने कहा कि अगर वहां मंदिर तोड़कर मस्जिद बनाई गई होती तो हम राम मंदिर बनवा देते। उन्होंने कहा कि सुप्राम कोर्ट में मामले की सुनवाई चल रही है लिहाजा तमाम लोगों को कोर्ट के फैसले का इंतजार करना चाहिए और कोर्ट का फैसला तमाम लोगों को मान्य होगा।

जफरयाब जिलानी की बड़ी बातें...

विनय कटियार और बीजेपी सरकार सुप्रीम कोर्ट से क्यों भाग रही है -

अगर वहां मंदिर तोड़कर मस्जिद बनाई होती तो हम राम मंदिर बनवा देते

अगर राम मंदिर का मुद्दा सुलझेगा तो बीजेपी को नुकसान होगा

सुप्रीम कोर्ट के फैसले को कोई भी संसद में नहीं बदल सकता