#3rd World War: पुतिन के आदेश के बाद रूस ने तैनात किए हथियार, बढ़े युद्ध के हालात

नई दिल्ली (17 अक्टूबर): दुनिया की महाशक्तियों के बीच ताकत का मुजाहिरा करने की होड़ लगी हुई है। हथियारों की होड़ दिखा रही है कि महाद्वीपों के बीच महायुद्ध की तैयारियां चल रही हैं। पुतिन तो बाकायदा वॉर रूम सजाकर विनाशक हथियारों का परीक्षण और तैनाती किए जा रहे हैं। अमेरिका और रूस में तल्खी इतनी बढ़ चुकी है कि दोनों महाशक्तियां अपने-अपने खतरनाक हथियार गिनने लगी हैं।

रूस की सबसे बड़ी ताकत है टोपोल मिसाइल... रूस की इस मिसाइस से पूरी दुनिया थर-थर कांपती है। इसी हफ्ते रूस में अपनी सबसे बड़ी ताकत का सफल परीक्षण किया। इंटर-कंटिनेंटल बैलिस्टिक मिसाइल 11 हज़ार किलोमीटर दूर तक सटीक निशाना लगाने की कुव्वत रखती है। एक अनुमान के मुताबिक, रूस ने ऐसी 50 मिसाइलें तैनात कर रखी हैं। 2020 तक ऐसी 108 मिसाइल डिफेंस सिस्टम तैनात करने वाला है। अगर विश्वयुद्ध हुआ तो रूस को अपने इस हथियार पर सबसे ज्यादा भरोसा है। जिस शहर पर रूस की टोपोल मिसाइल गिरेगी वो खाक में बदल जाएगा। रूस महाविनाश के आसमानी रिहर्सल में भी लगा हुआ है।

सुखोई T-50... रूस का सुखोई T-50 आसामन में एक मायावी योद्धा की तरह लड़ता है। इस लड़ाकू जंगबाज़ को दुश्मन का रडार पकड़ नहीं पता। सुखोई T-50 एयर टू ग्राउंड मिसाइस से लैस है जो 2400 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से दुश्मन का पीछा करता है। सुखोई T-50 दुनिया के बेहतरीन लड़ाकू विमानों में से एक माना जाता है। इससे निकले रॉकेट दुश्मन का काम पलक झपकते ही तमाम कर देते हैं।

रूस के अरमाता T-14 टैंकों की ताकत... जमीनी लड़ाई में अरमाता टैंक दुश्मन का काल है। दुश्मन के गोले इसका कुछ नहीं बिगाड़ सकते। अरमाता टैंक अपने दुश्मन का 90 किलोमीटर प्रति घंटा की रफ्तार से पीछा करता है। यह 'वॉर मशीन' जंग के दौरान खुद से ऑपरेट करने की भी ताकत रखती है।

Mi-28 NM हेलिकॉप्टर्स... अगर महायुद्ध हुआ तो रूसी सैनिक Mi-28 NM हेलिकॉप्टर्स से उतरेंगे। इसे रूस ने लंबे चलने वाले युद्ध के हर मौसम में दुश्मन को नेस्तनाबूद करने के लिए ही डिजाइन किया है। ये हेलिकॉप्टर नाइट हंटर, टैंक किलर गन के एडवांस्ड वेरिएंट से लैस है जो एक साथ कई टारगेट को खत्म कर सकता है।

यासेन क्लास परमाणु पनडुब्बी... रूस अपने जिस दिव्यास्त्र से महाद्वीपों का महायुद्ध जीतना चाहता है, वो है यासेन क्लास परमाणु पनडुब्बी। समंदर में रूस की इस ताकत से अमेरिका हमेशा सकते में रहता है। समंदर में रूस की ये एक ऐसी ताकत है, जिससे निपटना दुनिया की किसी भी महाशक्ति के लिए असंभव जैसा है।

इन अमोघ अस्त्रों से लैस रूसी सेना में ऐसी हलचल मची हुई है, जिसने दुनिया को सकते में डाल दिया है। रूस के वॉर रूम से सर्वनाश के सिग्नल मिल रहे हैं।

वीडियो:

[embed]https://www.youtube.com/watch?v=Zn0c-fwD5Q0[/embed]