गोरखपुर में 30 बच्चों की मौत: डिप्टी सीएम ने किया जानकारी होने से मना

नई दिल्ली (11 अगस्त): यूपी में सरकार किस तरह से काम कर रही है, उसकी शर्मनाक तस्वीर उस समय देखने को मिली जब एक अस्पताल में 30 बच्चों की ऑक्सीजन नहीं मिलने से मौत हो गई है। सबसे चौंकाने वाली बात यह है कि जब न्यूज 24 ने इस बारे में प्रदेश के उप मुख्यमंत्री दिनेश शर्मा से पूछना चाहा तो उन्होंने इस बारे में विस्तृत जानकारी होने से इंकार कर दिया।

न्यूज 24 ने दिनेश शर्मा को इस बारे में भी बताया कि गोरखपुर के डीएम ने इसकी पुष्‍टि की है, लेकिन उन्होंने हमारी खबर को ही गलत बताने में कोई कमी नहीं छोड़ी। उपमुख्मंत्री का कहना था कि वह अभी किसी कार्यक्रम से बाहर निकले हैं और उनको जानकारी नहीं है कि क्या हुआ है। उन्होंने इसमें सरकार की लापरवाही की बात भी नहीं स्वाकारी और पूरी रिपोर्ट सामने आने के बाद ही कुछ कार्रवाई करने की बात कही।

आपको बता दें कि गोरखपुर के बीआरडी अस्पताल में ऑक्सीजन खत्म होने से 30 बच्चों की मौत हो गई है। मरने वालों में 10 बच्चे एनएनयू वार्ड और 10 इंसेफेलाइटिस वार्ड में भर्ती थे। बताया जा रहा है कि 69 लाख रुपये का भुगतान न होने की वजह से फर्म ने ऑक्सीजन की सप्लाई ठप कर दी थी। लिक्विड ऑक्सीजन तो गुरुवार से ही बंद थी और आज सारे सिलेंडर भी खत्म हो गए। इंसेफेलाइटिस वार्ड में मरीजों ने दो घंटे तक अम्बू बैग का सहारा लिया।

गुरुवार से ही मेडिकल कालेज में जम्‍बो सिलेंडरों से गैस की आपूर्ति की जा रही है। बीआरडी अस्पताल में दो साल पहले लिक्विड आक्‍सीजन का प्‍लांट लगाया गया था। इसके जरिए इंसेफेलाइटिस वार्ड सहित करीब तीन सौ मरीजों को पाइप के जरिए आक्‍सीजन दी जाती है।