मोटापे की सजाः एयर इंडिया ने 30 एयरहोस्टेस को ग्राउंड ड्यूटी पर भेजा

नई दिल्ली (10 मार्च): सरकार ने गुरुवार को कहा है कि एयर इंडिया की 30 एयर होस्टेस सहित 34 केबिन क्रू सदस्यों को मोटापे के चलते ग्राउंड ड्यूटी पर लगा दिया गया है। फिलहाल एयर इंडिया में कुल 3490 केबिन क्रू कार्यरत हैं। नागरिक उड्डयन राज्य मंत्री जयंत सिन्हा ने कहा, 'अधिक बॉडी मास इंडेक्स (बीएमआई) के चलते 34 केबिन क्रू (30 महिला और 4 पुरुष) सदस्यों को ग्राउंड ड्यूटी पर लगाया गया है।' आपको बता दें कि डीजीसीए की गाइडलाइंस के मुताबिक महिला क्रू के लिए अधिकतम बीएमआई 22 तथा पुरुष क्रू के लिए 22 होना चाहिए।

सिन्हा ने कहा, 'मोटापे की कैटिगरी में आने वाले केबिन क्रू को ग्राउंड ड्यूटी पर इसलिए लगाया गया है ताकि वे बीएमआई की निर्धारित सीमा में आ सकें।' डीजीसीए नियमों के मुताबिक, नियमित अंतराल पर होने वाली मेडिकल जांच के आधार पर केबिन क्रू को 'फिट', 'टेंपररी अनफिट' और 'परमानेंट अनफिट' की कैटिगरी में रखा जाता है।

इसी के आधार पर अगर कोई क्रू मेंबर ओवरवेट पाया जाता है तो 'टेंपररी अनफिट' उसे अपना वजन कम करने के लिए 3 महीने दिये जाते हैं। 'टेंपररी अनफिट' टैग के साथ कोई केबिन क्रू सिर्फ 19 महीनों तक ही फ्लाइंग ड्यूटी पर रह सकता है। वहीं अगर कोई क्रू मेंबर इस दौरान अपना वजन कम नहीं कर पाता है तो उसे परमानेंटली फ्लाइंग ड्यूटी करने से रोका जा सकता है।