'सेक्सुअल हैरेसमेंट' की शिकार महिला को मिलेगी 3 महीने की छुट्टी

नई दिल्ली (10 अगस्त): सेक्सुअल हैरेसमेंट की शिकायत के बाद महिला एम्प्लॉईज़ को जांच के दौरान तीन महीने की छुट्टी मिल सकती है। केंद्रीय मंत्री जितेंद्र सिंह ने लोकसभा में बुधवार को इसकी जानकारी दी।

- रिपोर्ट के मुताबिक, उन्होंने कहा कि सरकार के पास सेक्सुअल हैरेसमेंट शिकायतों का कोई भी केंद्रीयकृत आंकड़े नहीं हैं। - सेक्सुअल हैरेसमेंट ऑफ वीमेन एट वर्कप्लेस (प्रिवेंशन, प्रॉहिविशन एंड रीड्रेसल) एक्ट, 2013 धारा 12 के तहत प्रभावित महिला एम्प्लॉई को तीन महीने की छुट्टी देता है। - ये छुट्टी मामले की जांच के दौरान मिल सकती है। - एक लिखित जवाब में जीतेंद्र सिंह ने इसकी जानकारी दी। - कार्मिक, जनशिकायत और पेंशन मामलों के केंद्रीय मंत्री ने कहा, "ये छुट्टी एम्प्लॉयर की तरफ से दी जा सकती है। अगर एक लिखित आग्रह प्रभावित एम्प्लॉई की तरफ से लोकल कमिटी या इंटरनल कमिटी की सिफारिश के साथ किया जाता है।"