नोएडा में सीवर सफाई के दौरान तीन मजदूरों की मौत

नई दिल्ली (21 सितंबर): दिल्ली-एनसीआर के सीवर अब सफाई कर्मचारियों के लिए मौत के कुओं में तब्दील हो चुके हैं। सीवर सफाई के दौरान होने वाली मौतों का सिलसिला थमने का नाम नहीं ले रहा है। सीवर सफाई के दौरान हादसों में सफाई कर्मचारियों की मौतों का दुखद सिलसिला जारी है। गुरुवार को नोएडा के सेक्टर 110 स्थित बीडीएस मार्केट के नजदीक सीवर की सफाई के दौरान 3 मजदूरों की मौत हो गई। मजदूर सफाई के लिए सीवर में उतरे थे लेकिन उसी में फंसे रह गए। हादसे की सूचना के बाद पुलिस की टीम तत्काल मौके पर पहुंची।

नोएडा अथॉरिटी के चेयरमैन आलोक टंडन ने सफाई कर्मियों की मौत की जांच के आदेश दिए हैं। मृतको के परिवार को 10-10 लाख रुपये की आर्थिक मदद का ऐलान किया गया है। टंडन ने बताया कि एक सप्ताह में जांच पूरी होगी। 

खास बात यह है कि देश में हाथ से मैला सफाई के खिलाफ कानून है, इसके बाद भी तमाम शहरों में मजदूरों से सीवर की सफाई कराई जाती है। इस दौरान सुरक्षा के जरूरी इंतजाम भी नहीं किए जाते। सुप्रीम कोर्ट ने सीवर साफ करने के दौरान हुई मौत के लिए 10 लाख रुपये का मुआवजा फिक्स किया है।