लंदन: स्वामीनारायण मंदिर से भगवान कृष्ण की 43 साल पुरानी तीन मूर्तियां चोरी

                                                                                        Photo: Twitter

न्यूज 24 ब्यूरो, नई दिल्ली ( 11 नवंबर ): ब्रिटेन की राजधानी लंदन के विल्‍सडन में स्थित श्री स्‍वामीनारायण मंदिर में शुक्रवार तड़के चोरी हो गई। चोरी हुए सामान में भगवान श्रीकृष्‍ण की तीन मूर्तियां भी शामिल हैं। ये तीनों मूर्तियां करीब 50 साल पुरानी हैं। मंदिर समिति के अध्‍यक्ष कुर्जीभाई केराई ने बताया कि श्री स्‍वामीनारायण मंदिर में दिवाली उत्‍सव के कुछ घंटे बाद ही चोरी हुई। ये तीनों मूर्तियां 1975 में मंदिर की स्‍थापना के वक्‍त से यहां थीं और इनके साथ भक्‍तों की आस्‍था जुड़ी हुई है।

शुक्रवार तड़के करीब 9 नवंबर को 01:50 बजे पुलिस को मंदिर में चोरी की सूचना दी गई। मंदिर में श्रीकृष्‍ण की मूर्तियों के अलावा कैश और अन्‍य सामान की भी चोरी हुई है। स्‍थानीय पुलिस ने इस संबंध में छानबीन तो शुरू कर दी है, लेकिन अभी तक कोई गिरफ्तारी नहीं हो सकी है। मंदिर प्रशासन का कहना है कि हरी कृष्‍ण की मूर्तियां पीतल की थीं, ऐसा संभव है कि चोर पीतल को सोना समझकर मूर्ति चुराकर भाग गए हों। मंदिर प्रशासन को उम्‍मीद है कि शायद चोर मूर्तियों को वापस लौटा जाएं, क्‍योंकि उनकी ये मूर्तियां भक्‍तों के लिए बाजार में मिलने वाली कीमत से कहीं ज्‍यादा कीमती हैं। उधर, पुलिस ने सीसीटीवी फुटेज देखनी शुरू कर दी है और फॉरेंसिक एक्‍सपर्ट की भी मदद ली जा रही है।

लंदन में स्‍वामीनारायण के कई मंदिर हैं, इनमें विल्‍सडन लेन स्थित मंदिर भी एक है, जहां पर चोरी हुई है। नॉर्थ लंदन में ही एक और स्‍वामीनारायण मंदिर है। यह यूरोप का सबसे बड़ा स्‍वामीनारायण मंदिर है। इस मंदिर ने भी बयान जारी कर मूर्ति चोरी की घटना पर दुख जताया है। यूर्निवर्सल सोसायटी ऑफ हिंदुज्‍म के अध्‍यक्ष राजन जेड ने भी घटना पर दुख जताया है। उन्‍होंने लंदन के मेयर सादिक खान और स्‍थानीय प्रशासन से मामले को गंभीरता से लेने की अपील की है।