राजधानी में सामने आए डेंगू के 28 मामले

नई दिल्ली (28 जून): देश की राजधानी में बारिश का मौसम शुरू नहीं हुआ है, लेकिन इसके पहले ही डेंगू के मच्छर ने पांव पसारना शुरू कर दिया है। दिल्ली में अब तक डेंगू के 28 मामले सामने आ चुके हैं। जाहिर है इस बार दिल्ली में बरसात के मौसम में डेगू का खतरा बड़ा है।

बताया जा रहा है कि महज जून के महीने में ही डेंगू के 15 मामले सामने आए हैं। दिल्लीवालों को अभी गर्मी से निजात नहीं मिली है, लेकिन उसके पहले हीं जिस तेजी से डेंगू के मच्छरों ने पांव पसारना शुरू किया है। उससे साफ है कि इस साल डेंगू का प्रकोप खतरनाक रूप अख्तियार कर सकता है। बरसात के दिनों में जब गड्डों और नालों में बारिश का पानी जमा होगा तो डेंगू का डंक लोगों के होश उड़ा सकता है।

डेंगू का सबसे खतरनाक हमला साल 1996 में हुआ था, तब डेंगू फीवर की वजह से 423 लोगों की जान चली गई थी। अब एक बारिश के मौसम में फिर डेंगू का खतरा सामने है। लेकिन जरूरत डेंगू के डंक से डरने की नहीं है। डेंगू से मुकाबले की तैयारी करने की है। डेंगू से बचने के लिए हर हाल में घर के आस पास मच्छरों को पनपने से रोकें।

क्‍या करें उपाय: कहीं भी बारिश का पानी रुकने न दें। फव्वारों, पक्षियों के बर्तनों, गमले का पानी बदलते रहें। स्विमिंग पूल का पानी भी बदलते रहें। दीवारों, दरवाजों और खिड़कियों की दरारें भर दें। सोते समय मच्छरदानी का प्रयोग जरूर करें। लंबी बाजू की शर्ट, पैंट और जुराबें पहनें।

डेंगू के मच्छर सुबह और शाम ज्यादा सक्रिए होते हैं, इसलिए जरूरी है कि इस वक्त इन मच्छरों से बताव के खास उपाए करें। जरूरी ना हो तो घरों के अंदर ही रहें और बुखार आने पर डॉक्टर से जरूर सवाल लें।