MP: बाढ़ से बर्बाद हुए 25,000 घर, 24 घंटे में 1450 लोगों को बचाया

भोपाल (11 जुलाई): मध्यप्रदेश में बाढ़ का कहर जारी है। सरकारी आंकड़ों के मुताबिक यहां अब तक बाढ़ की वजह से 15 लोगों की मौत हो चुकी है। 25,000 घर पूरी तरह से बर्बाद हो चुके हैं और 18,000 घर को आंशिक रूप से नुकसान हुआ है। पिछले 24 घंटों में 1450 लोगों को बचाया गया है।

उज्जैन में तेज बारिश के बाद शिप्रा नदी उफान पर है। यहां राम घाट पर मौजूद सभी मंदिर पानी में डूब गए हैं। शिप्रा नदी का छोटाल पुल भी डूब चुका है। नदी का ये पानी अब शहर की ओर तेज से बढ़ रहा है।

विदिशा भी बाढ़ से जूझ रहा है। यहां तेज बारिश की वजह से हर तरफ-तरफ पानी ही दिख रहा है। विदिशा भोपाल रोड बंद कर गया है। एमपी में बाढ़ की वजह से पिछले 24 घंटों में 7 लोगों की मौत हो गई। गुना में तो एक शख्स पानी की लहरों के बीच फसं गया। घंटों तक ये शख्स इसी तरह लहरों से जूझता रहा. बाद में प्रशासन की टीम ने उसे बचाया।

बाढ़ के हालात पर सीएम शिवराज सिंह चौहान ने हाईलेवल मीटिंग की। शिवराज सरकार के मुताबिक जैसे-जैसे बारिश कम हो रही है हालात काबू में आना शुरू हो गया है।