खिलाडिय़ों को बिना कटौती के मिलेगा इनाम: खेल मंत्री अनिल विज

न्यूज 24 ब्यूरो, नई दिल्ली ( 10 जून ):  हरियाणा के खेल मंत्री अनिल विज ने 22 कॉमनवेल्थ खिलाडिय़ों को बिना किसी कटौती के इनाम देने की बात कहते हुए बताया कि वह इसकी फाइल बना कर जल्द ही मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर को भेजेंगे और उन्हें इसके लिए मनाएंगे। 

विज ने कहा कि हरियाणा के खिलाड़ी हमारी आन बान शान और सम्मान हैं, कॉमनवेल्थ से जीत कर आए 22 के 22 खिलाडिय़ों को बिना राशि काटे इनाम दिया जाएगा। वहीं विज ने हुड्डा और मनोहर राज में अंतराष्ट्रीय खेल पदक जीतने वाले 207 खिलाडिय़ों को इसी महीने नियुक्ति पत्र देने की बड़ी घोषणा भी की है। 

खिलाड़ियों की नोटिफिकेशन के मामले पर जवाब देते हुए विज ने कहा कि इसमें कोई नई बात नहीं है ये हरियाणा सरकार का रूल 56 के तहत एक नियम होता है कि अगर कोई भी सरकारी कर्मचारी कोई कमर्शियल इनकम करता है तो उसका एक तिहाई वो सरकार को जमा करवाएगा।विज ने कहा कि हमने बॉक्सर विजेंदर को जब प्रोफेशनल बॉक्सिंग के लिए इजाजत दी थी तब हाइकोर्ट में एक केस लगा था। तब उस केस में हाईकोर्ट ने हमें कहा था कि खिलाड़ियों के लिए भी गाइडलाइंस तय की जाएं। ये जो सरकारी कर्मचारी और खिलाड़ी प्रोफेशनल खेलते हैं उनके लिए ये नोटिफिकेशन जारी की गई है, जो कि सरकार का एक बहुत पुराना नियम है। उल्लेखनीय है कि हरियाणा सरकार ने एक अजीबो-गरीब फरमान जारी किया है। सरकार ने हरियाणा प्रोफेशनल खिलाड़ियों को बड़ा झटका देते हुए उनकी कमाई का पैसा मांगा है। खेल विभाग ने नोटिफिकेशन जारी करते हुए प्रोफेशनल खिलाड़ियों की आय का 33 फीसदी हिस्सा मांगा है। हरियाणा सरकार के खेल विभाग के प्रधान सचिव अशोक खेमका ने ये निर्देश जारी किया है। खिलाड़ी अगर बिना तनख्वाह के किसी प्रोफेशनल टूर्नामेंट या विज्ञापन इत्यादि में काम करता है तो उसे कमाई की एक तिहाई फीस स्पोर्टस कौंसिल को देनी होगी। खिलाड़ी तनख्वाह के साथ-2 भी प्रोफेशनल खेलता है या किसी कमर्शियल एंडोर्समेंट का हिस्सा बनते हैं तो खिलाड़ी को अपनी पूरी कमाई स्पोर्ट्स कौंसिल को देनी होगी। हरियाणा के खिलाड़ी इस फैसले के बाद बगावत पर उतर आए हैं।