जानिए क्या मिलेगा जगुआर की नई एक्सएफ में…

जगुआर की नई एक्सएफ लॉन्चिंग के लिए तैयार है। इसे इसी महीने लॉन्च किया जाएगा। लॉन्चिंग के बाद इसका मुकाबला मर्सिडीज-बेंज़ ई-क्लास, बीएमडब्ल्यू की 5-सीरीज और ऑडी ए6 से होगा। यहां हम लेकर आए हैं नई एक्सएफ से जुड़ी कई अहम जानकारियां.. तो आइए जानते हैं इसके बारे में...

डिजायन और प्लेटफार्म

डिजायन के मामले में यह काफी हद तक 2007 में आई ओरिजनल एक्सएफ जैसी है। कंपनी ने बारीक बदलावों के साथ इसके लम्बे बोनट, कूपे जैसी शार्प रूफलाइन और पारंपरिक फ्रंट डिजायन को बरकरार रखा है।

नई एक्सएफ में फुल एलईडी टेक्नोलॉजी वाली हैडलाइटें दी गई हैं। इस टेक्नोलॉज़ी से लैस यह जगुआर की पहली कार है। मौजूदा मॉडल की तरह नई एक्सएफ में भी ‘जे-ब्लेड’ डिजायन वाली डे-टाइम रनिंग लाइटें दी गई हैं। पीछे की तरफ एफ-टाइप से ली गई एलईडी टेल लाइटें दी गई हैं। एलईडी को दो भागों में विभाजित करने के लिए एक्सई की तरह यहां भी आकर्षक लाइन का इस्तेमाल किया गया है।

नई एक्सएफ को जगुआर के नए एल्यूमिनियम-इनटेंसिव आर्किटेक्चर प्लेटफार्म पर तैयार किया गया है। इसी प्लेटफार्म पर एक्सई भी बनी है। यही वजह है कि नई एक्सएफ मौजूदा मॉडल से 190 किलोग्राम कम वज़नी लेकिन ज्यादा मजबूत है।

अब बात करते हैं कार की कद-काठी की... नई एक्सएफ की लम्बाई 4,654 एमएम है। लम्बाई के मामले में यह मौजूदा मॉडल से 7 एमएम छोटी है। हालांकि व्हीलबेस के मामले में नई एक्सएफ आगे है। इसका व्हीलबेस 2,960 एमएम है। जो मौजूदा वर्जन की तुलना में 51 एमएम ज्यादा है। व्हीलबेस बढ़ने के कारण कार में 15 एमएम ज्यादा लैगरूम, 24 एमएम ज्यादा नी रूम और 27 एमएम तक हैडरूम बढ़ा है।

केबिन की बात करें तो इसके डैशबोर्ड को दोबारा डिजायन किया गया है। सेंट्रल कंसोल पर ध्यान दें तो यहां टचस्क्रीन इंफोटेनमेंट सिस्टम दिया गया है। स्टीयरिंग व्हील जगुआर की एक्सई से मिलता-जुलता है। इंस्ट्रूमेंट क्लटर में ऑल डिजिटल 12.3 इंच की यूनिट दी गई है।

वेरिएंट

भारत में नई एक्सएफ को तीन वेरिएंट में उतारा जाएगा। इनमें प्योर, प्रेस्टिज और पोर्टफोलियो वेरिएंट शामिल हैं।

इंजन

पावर स्पेसिफिकेशन की बात करें तो घरेलू बाजार में नई एक्सएफ को 2.0 लीटर क्षमता वाले ऑल एल्यूमिनियम इनजेनियम पेट्रोल और डीज़ल इंजन में उतारा जाएगा। अंतरराष्ट्रीय बाजार में ये दोनों इंजन जगुआर की एंट्री लेवल एक्सई में दिए गए हैं।

डीज़ल वेरिएंट में लगा 2.0 लीटर का 4-सिलेन्डर इंजन 180 पीएस की पावर और 430 एनएम का टॉर्क देगा। यह पिछले पहियों पर पावर सप्लाई करेगा। इंजन 8-स्पीड जेडएफ ऑटोमैटिक गियरबॉक्स से जुड़ा होगा। इसकी टॉप स्पीड 223 किलोमीटर प्रति घंटा होगी। 0 से 100 किमी प्रति घंटे की रफ्तार पाने में इसे 8.1 सेकंड का समय लगेगा। इसका माइलेज 19.33 किमी प्रति लीटर होगा।

पेट्रोल वेरिएंट में दिया गया 2.0 लीटर का जीटीडीआई इनजेनियम इंजन 240 पीएस की पावर और 340 एमएम का टॉर्क देगा। यह भी पिछले पहियों पर पावर सप्लाई करेगा। इसमें भी 8-स्पीड जेडएफ ऑटोमैटिक गियरबॉक्स मिलेगा। इसकी टॉप स्पीड 248 किलोमीटर प्रति घंटा है। 0 से 100 किमी प्रति घंटे की रफ्तार पाने में इसे 7 सेकंड लगेंगे। इसके माइलेज का दावा 13.12 किलोमीटर प्रति लीटर का है।

नई एक्सएफ के एंट्री लेवल वेरिएंट प्योर में केवल डीज़ल इंजन ही मिलेगा। जबकि ऊपर वाले दोनों वेरिएंट में पेट्रोल और डीज़ल इंजन का विकल्प मिलेगा। एक्सएफ में स्टैंडर्ड फीचर के तौर पर जगुआर ड्राइवर कंट्रोल और ईको, डायनामिक, रेन, आईस और स्नो ड्राइविंग मोड मिलेंगे।

फीचर्स

फीचर्स की बात करें तो 2016 एक्सएफ में जगुआर का इनकंट्रोल टचस्क्रीन इंफोटेंमेंट सिस्टम दिया जाएगा। यही फीचर्स आने वाली एफ-पेस में भी मिलेगा। इसमें दो वर्जन मिलेंगे, जिसमें 8-इंच का इनकंट्रोल टच स्टैंडर्ड रहेगा। जबकि 10.2 इंच का इनकंट्रोल टच प्रो ऑप्शनल होगा। ऑडियो आउटपुट के लिए 8-स्पीकर्स वाला जगुआर का साउंड सिस्टम स्टैंडर्ड मिलेगा। टॉप वेरिएंट में 17 स्पीकर्स मिलेंगे। इनकंट्रोल टच प्रो के साथ दो साउंड सिस्टम मिलेंगे। इसमें एक 380 वॉट का डिजिटल साउंड सिस्टम होगा और दूसरा 825 वॉट वाला मेरिडिएन सराउंड साउंड सिस्टम होगा।

लॉन्चिंग के बाद इसे जगुआर रेंज में एक्सई के ऊपर और एक्सजे के नीचे पोजिशन किया जाएगा। संभावना है कि इसकी कीमत मौजूदा एक्सएफ से थोड़ी ज्यादा महंगी होगी।

कारदेखो

जानिए क्या मिलेगा जगुआर की नई एक्सएफ में…