26/11 की साजिश में शामिल अबु जुंदाल को एक और मामले में उम्रकैद

नई दिल्ली (2 अगस्त): सन 2006 में औरंगाबाद में हथियार केस मामले में महाराष्ट्र की विशेष मकोका अदालत ने मामले में दोषी पाए गए अबु जुंदाल सहित 7 आरोपियों को उम्रकैद की सजा सुनाई है। जबकि दो दोषियों को 14 साल की सजा और तीन को 8 साल की सजा सुनाई गई है। इन लोगों में लश्कर-ए-तैयबा का आतंकवादी और 26/11 का साजिशकर्ता सैयद जैबुद्दीन अंसारी उर्फ अबु जुंदाल भी शामिल है, जिसे उम्रकैद मिली है।

कोर्ट के अनुसार ये लोग नरेंद्र मोदी और प्रवीण तोगडिया की हत्या करने वाले थे। महाराष्ट्र एटीएस ने 8 मई 2006 को औरंगाबाद के एलोरा से एक तीन संदिग्ध आतंकियों को गिरफ्तार कर उनके पास से तीन किलो आरडीएक्स, 10 एके-47 और 5000 कारतूस बरामद किए थे। लेकिन इसी दौरान इंडिका चला रहा अबू जिंदाल फरार हो गया था। एटीएस ने बाद इस मामले में जुंदाल समेत 22 लोगों को गिरफ्तार किया था। बता दें कि सैयद जैबुद्दीन अंसारी उर्फ अबू जुंदाल 26/11 मुंबई आतंकवादी हमले के मुख्य आरोपियों में से एक है।

बाकी आरोपियों को दी गयी सज़ा इस प्रकार है ।

> मोहम्मद अमीर शकील अहमद शेख उम्र क़ैद > मोहम्मद मुजफ्फर मोहम्मद तनवीर 14 साल > मुश्ताक अहमद मोहम्मद इशाक शेख 8 साल > जावेद अहमद अब्दुल मजीद अंसारी 8 साल > अफजल कान नबी खान 8 साल > डॉ मोहम्मद शरीफ शब्बीर अहमद 14 साल > बिलाल अहमद अब्दुल रजाक उम्र क़ैद > सय्यद आक़िफ़ सय्यद ज़फरुद्दीन उम्र क़ैद > फैजल अताउर रेहमान शेख उम्र क़ैद > मोहम्मद असलम कश्मीरी उम्र क़ैद > सय्यद ज़ैबुद्दीन जकीउद्दीन उम्र क़ैद > अफ़रोज़ खान साहिद खान पठान उम्र क़ैद