मेरठ यूनिवर्सिटी के पूर्व कुलपति को 2 साल की कैद !

 

नई दिल्ली (3 अगस्त): दिल्ली की तीस हजारी स्थित सीबीआई की एक विशेष अदालत ने एक पूर्व कुलपति और उनकी बेटी को दो साल की कैद की सजा सुनाई है। मीडिया रिपोर्ट के अनुसार चौधरी चरण सिंह विश्वविद्यालय मेरठ के पूर्व वीसी रमेश चंद्रा और उनकी बेटी को फर्जी दस्तावेजों के जरिये दिल्ली प्रदूषण नियंत्रण समिति (डीपीसीसी) में नौकरी हासिल करने के मामले में दो साल की कैद व दस हजार रूपये जुर्माना की सजा सुनाई है।

एक शिकायत के आधार पर सीबीआई ने तीन मई 2000 को प्रोफेसर रमेश चंद और अन्य के खिलाफ साजिश रच कर धोखाधडी करने और फर्जी दस्तावेज तैयार करने की धाराओं के तहत मामला दर्ज किया था।