क़ानून को धता बता राजस्थान में 4 बच्चियों का विवाह, एक बच्ची 2 साल की

 

 

नई दिल्ली (27 फरवरी) :  राजस्थान के भीलवाड़ा ज़िले के गाजुना गांव में एक समारोह में 2 साल से 12 साल तक की चार लड़कियों की गुपचुप ढंग से शादी किए जाने की ख़बर है। ये सब होता रहा और पुलिस और स्थानीय प्रशासन सोता रहा।

हिंदुस्तान टाइम्स की रिपोर्ट के मुताबिक इन लड़कियों के दूल्हे भी नाबालिग हैं। ये शादियां मदन नाथ के परिवार में 23 फरवरी को हुई।

एक स्थानीय समाचारपत्र में ख़बर प्रकाशित होने के बाद पुलिस ने गुरुवार रात को गांव का दौरा किया।

शुक्रवार को लड़कियों के चाचा ने भीलवाड़ा ज़िले की बाल कल्याण समिति में रिपोर्ट दर्ज़ कराई कि उसकी भतीजी का भाभी और भाइयों ने गुपचुप ढंग से विवाह करा दिया।

राजस्थान राज्य बाल अधिकार संरक्षण आयोग और भीलवाड़ा की बाल कल्याण समिति ने भीलवाड़ा के एसपी प्रदीप मोहन शर्मा और एसडीएम मंडल देवी लाल को शादी में उपस्थित लोगों के ख़िलाफ़ एफआईआर दर्ज़ करने को कहा है। इसके लिए मीडिया रिपोर्ट को आधार बनाने के लिए कहा गया है।

जोधपुर में बाल विवाहों को रद्द कराने के लिए सक्रिय कार्यकर्ता कृति भारती ने का कि पुलिस अखबार में छपी रिपोर्ट का स्वत:  संज्ञान लेकर बाल विवाह रोक कानून 2006 के तरह एफआईआर दर्ज कर सकती है।