गौ मांस ले जाने के आरोप में दो महिलाओं को पीटा, संसद में सुनाई दी घटना की गूंज

मंदसौर (27 जुलाई): सरकार के खिलाफ विपक्षियों का दलित दांव अब सरकार पर भारी पडने लगा है। आज फिर मायावती ने सरकार के दलित विरोधी चेहरे पर सवाल उठाते हुए मंदसौर में महिलाओं की पिटाई का मुद्दा उठाया। मायावती ने मंदसौर में बीफ के अफवाह में दो मुस्लिम महिलाओं की पिटाई का मसला उठाते हुए सवाल पूछे। मायावती के इस मुद्दे को कांग्रेस का भी भरपूर समर्थन मिला। 

दरअसल- मंदसौर में बीफ की तस्करी के शक में लोगों ने दो महिलाओं की जमकर पिटाई की थी। मौके पर पुलिस भी मौजूद थी, लेकिन आरोपियों ने पुलिस तमाशबीन बनी रही। दोनों महिलाएं जावरा से मंदसौर आई थीं। इनके पास झोले में 30 किलो मांस था।

इसी दौरान लोगों ने इन्हें पकड़ लिया और जमकर पिटाई कर दी। पिटाई की वजह से एक महिला के हाथ में फ्रैक्चर हो गया है। वहीं जब बाद में स्थानीय डॉक्टरों ने जांच की, तो पता चला कि ये भैंसे का मीट है।

पुलिस ने दोनों महिलाओं को भैंसे की मीट की तस्करी के आरोप में कोर्ट में पेश किया, जहां से उन्हें न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया है। लेकिन हैरान कर देने वाली बात ये है कि पुलिस ने महिलाओं के साथ मारपीट और बदसलूकी करने वाले आरोपियों के खिलाफ अब तक कोई कार्रवाई नहीं की है।