कहीं आपकी जेब का नोट तो नकली नहीं, पकड़ी गई नकली नोटों की फैक्ट्री

वेद शुक्ला, नई दिल्ली (5 नवंबर): दिल्ली पुलिस ने दो शातिर भाइयों को गिरफ्तार कर नकली नोटों की फैक्ट्री का खुलासा किया है। बताया जा रहा है कि दोनों भाई पैरोल पर जेल से छूटकर बाहर आए थे और नकली नोट छापना शुरू कर दिया था। ये इतने शातिर थे कि नकली नोटों को अंधेरे में या फिर ऑटो वालों के बीच खपा देते थे। अब तक साढ़े 3 लाख नोट ये बाजार में खपा चुके हैं।

दिल्ली पुलिस नकली नोटों के इन धंधबाज भाइयों मोहम्मद यासीन और मोहम्मद अकील को पकड़ कर राहत की सांस ले रही है। दिल्ली पुलिस की माने तो इन दोनों पर 70 आपराधिक मामले दर्ज है और सबसे ज्यादा हैरान करने वाली बात ये है कि कश्मीरी गेट इलाके में सिपाही को गोली मारने के जुर्म में कैद की सजा काट रहे थे और एक महीने पहले ही पैरोल पर बाहर आए थे।

दिल्ली पुलिस अब दोनों नटवरलालों को पकड़कर कड़ी पूछताछ कर रही है और ये पता लगाने में जुटी है कि इनके गैंग और कौन-कौन लोग थे। पूछताछ के दौरान इन इन दोनों ने ये भी बताया है कि जेल में ही वसीम नाम के एक शख्स से नकली नोट छापने का हुनर सीखा था और ये अबतक नकली नोटों की फैक्ट्री से करीब 3.5 लाख रुपये होटल, पेट्रोल पंप और बाज़ार में खपा चुके हैं, लेकिन इनकी चालबाजी तब धरी की धरी रह गई जब दिल्ली पुलिस ने मुखबिर की सूचना पर इन दोनों को धर दबोचा।

वीडियो: