1984 सिख दंगे: सज्जन कुमार ने हाईकोर्ट से सरेंडर के लिए मांगा 30 दिन का वक्त


न्यूज 24 ब्यूरो, नई दिल्ली (20 दिसंबर): सज्जन कुमार ने सरेंडर करने के लिए दिल्ली हाईकोर्ट से 30 दिन का समय मांगा है। सज्जन कुमार की इस याचिका पर कल दिल्ली हाईकोर्ट में सुनवाई हो सकती है। आपको बता दें कि पिछले दिनों दिल्ली हाईकोर्ट ने निचली अदालत के फैसले को पलटते हुए 1984 सिख दंगा मामले में सज्जन कुमार को दोषी करार देते हुए उम्र कैद की सजा सुनाई थी। साथ कोर्ट ने सज्जन कुमार को 31 दिसंबर तक सरेंडर करने के लिए कहा था। अब सज्जन कुमार ने सरेंडर करने के लिए कोर्ट से 30 दिन का समय मांगा है। उम्रकैद के अलावा उनपर 5 लाख रुपये का जुर्माना भी लगाया गया था।

आपको बता दें कि 17 दिसंबर को दिल्ली हाईकोर्ट ने 1984 के सिख विरोधी दंगों के मामले में सज्‍जन कुमार को दोषी ठहराते हुए उम्रकैद की सजा सुनाई थी। कोर्ट ने इस मामले में निचली अदालत के 2013 के फैसले को पलट दिया, जिसने सज्जन कुमार को बरी कर दिया था। हाई कोर्ट ने दिल्‍ली कैंटोनमेंट के राजनगर इलाके में एक ही परिवार के 5 लोगों की हत्‍या के मामले में सज्‍जन कुमार को यह सजा सुनाई है।

आपको बात दें कि फैसला सुनाते वक्त दिल्‍ली हाई कोर्ट ने 34 साल पहले हुई इस मानवीय त्रासदी की तुलना 1947 के विभाजन के दौरान हुए 'जनसंहार' से करते हुए कहा कि आरोपियों को राजनीतिक संरक्षण हासिल रहा। कोर्ट का यह फैसला एक बार फिर न्‍याय में भरोसा जगाता है, पर पीड़ितों के लिए यह जिंदगीभर का जख्‍म है, जो शायद कभी नहीं भरने वाला। करीब 3 दशक पहले उस उन्‍माद में अपने पिता को गंवाने वाली चाम कौर उस खौफनाक मंजर को याद कर आज भी सिहर उठती हैं।