अंडमान में फंसे है 1900 पर्यटक, सेना बचाने में जुटी

नई दिल्ली(9 दिसंबर): अंडमान के हैवलॉक और नील आइलैंड पर पिछले दो दिनों से 1900 लोग फंसे हुए हैं। हैवलॉक आइलैंड अन्य हिस्सों से पूरी तरह से कट गया है। इन्हें सुरक्षित निकालना प्रशासन के लिए बड़ी चुनौती है।

- प्रशासनिक अधिकारियों के अनुसार इस वक्त अंडमान के हैवलॉक आइलैंड में 1,200 और नील आइलैंड में 700 लोग फंसे हुए हैं।

- पोर्ट ब्लेयर से 40 किमी. की दूरी हैवलॉक और नील आइलैंड पर्यटकों के बीच सबसे लोकप्रिय जगह हैं। ये दोनों ही आइलैंड बंगाल की खाड़ी में बने जबरदस्त दबाव के कारण भारी बारिश और तेज हवाओं से बुरी तरह प्रभावित हैं।

- फंसे हुए पर्यटकों को सुरक्षित निकालने के लिए भारतीय नौसेना की मदद ली जा रही है। नौसेना की टीम ने पिछले दो दिनों में तीन बार पर्यटकों को निकालने की कोशिश की है।

- साउथ अंडमान के डेप्युटी कमिश्नर उदीप्त प्रकाश राय का कहना है, 'तेज हवाओं और समुंदर में उठती लहरों के कारण रेस्क्यू ऑपरेशन रोकना पड़ रहा है। हम मौसम और स्थिति पर लगातार नजर बनाए हुए हैं। आइलैंड में फंसे सभी पर्यटक पुरी तरह से सुरक्षित हैं। उन्हें सुरक्षित निकालना हमारी प्राथमिकता है।' हैवलॉक और नील आइलैंड के सभी होटल और रिजॉर्ट भरे हुए हैं। हालांकि, प्रशासन ने भरोसा दिया है कि खाने-पीने के सामान की कोई कमी नहीं हो सकती है।