टी-20 में रच गया इतिहास, भारतीय बल्लेबाज ने 67 गेंदों पर ठोका दिया दोहरा शतक


नई दिल्ली(12 मई): मुंबई के वानखेड़े स्टेडियम से मात्र 13 किलोमीटर दूर माटुंगा जिमखाना में इतिहास रचा गया। यहां खेले गए एक स्कूल लीग टी-20 मुकाबले में 19 साल के क्रिकेटर रुद्र दांडे ने 67 गेंदों में नाबाद 200 रनों की पारी खेलकर इतिहास रच दिया।

 

- मुंबई क्रिकेट एसोसिएशन (एमसीए) के द्वारा आयोजित आबिस रिजवी चैंपियंस ट्रॉफी सुपर-8 कॉलेज टी-20 टूर्नामेंट में रिजवी और पी डालमिया कॉलेज के बीच खेले गए मैच में रूद्र ने 21 चौके और 15 छक्कों के साथ यह रिकॉर्ड पारी खेली।


-  रुद्र ने मात्र 39 गेंदों में शतक जड़ डाला।


- रूद्र से पहले इसी साल फरवरी महीने में खेले गए एक टी-20 मैच में दिल्ली के मोहित अहलावत ने 322 रनों की पारी खेलकर सनसनी मचा दी थी।


- अंतरराष्ट्रीय स्तर की बात करें तो फर्स्ट क्लास प्लेयर के तौर सबसे बड़े स्कोर का रिकॉर्ड श्रीलंका के धानुका पाथिराणा के नाम है। धानुका ने साल 2007 में लंकाशायर के लिए खेलते हुए 72 गेंदों में 277 रनों की पारी खेली थी।


- रुद्र दांडे की इस पारी की दम पर रिजवी कॉलेज ने 20 ओवर में दो विकेट पर 322 रन का स्कोर खड़ा किया। इसके जवाब में डालमिया कॉलेज की टीम 10.2 ओवर में 75 रन पर ऑलआउट हो गई। रिजवी कॉलेज ने ये मैच 247 से जीता।