महाराष्ट्र: नाले में मिले 19 बच्चियों के भ्रूण, प्लास्टिक की थैली में फेंका था

मुंबई(6 मार्च): महाराष्ट्र के सांगली में कन्या भ्रूण हत्या के एक सनसनीखेज मामले का खुलासा हुआ है। पुलिस ने यहां 19 भ्रूण बरामद किये हैं।

- ये सभी भ्रूण लड़कियों के हैं, गर्भपात के बाद इन शवों को एक स्थानीय नाले के पास गाड़ दिया गया था।

- पुलिस के मुताबिक इस मामले का खुलासा तब हुआ जब वो गर्भपात के दौरान हुई एक महिला की मौत की जांच कर रही थी।

- पुलिस ने बरामद सभी 19 भ्रूण को अपने कब्जे में ले लिया है और जांच के लिए भेजा दिया है। सांगली के एसपी दत्तात्रेय शिंदे ने बताया कि, ‘ये जिस किसी भी करतूत है हम उसे गिरफ़्तार करेंगे, आरोपियों ने पेट में ही अपनी बेटियों को मार दिया और भ्रूण को ठिकाने लगाने के लिए म्हैसाल गांव में एक नाले के पास इसे गाड़ दिया।’

- एक अंग्रेजी अख़बार के मुताबिक इस इलाके में 26 साल की एक गर्भवती महिला की मौत हो गयी थी। ये महिला अपने घरवालों के दबाव में अपना गर्भपात करवाने गयी थी। गर्भपात के बाद ही उसकी मौत हो गयी। लेकिन महिला के पिता ने इसकी सूचना पुलिस को दे दी।

- पुलिस ने जब जांच शुरू किया तो इस रैकेट का पर्दाफाश हुआ। इस महिला की मौत गांव के ही एक निजी हॉस्पिटल में हुई थी। इस अस्पताल का डॉक्टर बाबा साहेब खिद्रापुरे है और उसने होमियोपैथी में बैचलर की डिग्री ले रखी है।

- पीड़ित महिला के पिता सुनील जाधव ने पुलिस को बताया कि, ‘उसके दामाद प्रवीण जमदादे को किसी तरह से ये बात पता चल गयी थी कि उसकी पत्नी के गर्भ में पल रही संतान लड़की है, जमदादे इस संतान को नहीं चाहता था इसलिए वो अपनी पत्नी को अस्पताल लेकर गया था।’ हालांकि सुनील जाधव ने गर्भपात कराने के उसके फैसले से आपत्ति जताई थी, लेकिन प्रवीण ने किसी की नहीं सुनी और पत्नी का एबॉर्शन कराने चला गया, और इसी दौरान उस महिला की मौत हो गयी। पुलिस ने फिलहाल प्रवीण जमदादे और गर्भपात कराने वाले डॉक्टर के ख़िलाफ़ केस दर्ज कर लिया है।