जब एक ही वनडे मैच में बने 825 रन, जीत से चूका श्री लंका

Image Source: Google

न्यूज 24 ब्यूरो, नई दिल्ली (15 दिसंबर): आपने आजतक कई ऐसे क्रिकेट स्कोर के बारे में पढ़ा और सुना होगा जिनके बारे में जानकर आप खुद हैरान रह गए होंगे।  ऐसा ही एक रेकॉर्ड है भारत और श्री लंका के बीच वनडे इंटरनैशनल मैच का। 15 दिसंबर 2009 को राजकोट में खेले गए वनडे मैच में कुल 825 रन बने थे। दिलचस्प रहा कि दोनों ही टीमों ने अपने-अपने निर्धारित 50 ओवर तक बल्लेबाजी की। साल 2009 में श्री लंकाई टीम भारत दौरे पर आई थी, तब सीरीज के पहले ही वनडे मैच में यह रेकॉर्ड बना।


आपको बता दें कि राजकोट में मेजबान भारतीय टीम ने 7 विकेट पर 414 रन का विशाल स्कोर बनाया। इसके जवाब में श्री लंकाई टीम जीत के करीब तक पहुंच गई थी लेकिन अंत में 3 रन के मामूली अंतर से हार गई। श्री लंका ने ओपनर तिलकरत्ने दिलशान (160) की मदद से 8 विकेट पर 411 रन बनाए। मैन ऑफ द मैच भारत के धाकड़ ओपनर वीरेंदर सहवाग (146) रहे जिन्होंने 102 गेंदों पर 17 चौके और 6 छक्के लगाए। सहवाग 166 मिनट तक क्रीज पर जमे रहे।


गौरतलब है कि भारत के लिए सहवाग के अलावा दिग्गज सचिन तेंडुलकर ने 63 गेंदों पर 10 चौके और 1 छक्के की मदद से 69 रन बनाए। सहवाग और सचिन ने 153 रन की ओपनिंग पार्टनरशिप की। कप्तान महेंद्र सिंह धोनी (72) ने 53 गेंदों की अपनी शानदार पारी मे 7 चौके और 3 छक्के लगाए। सहवाग टीम के 309 के स्कोर पर दूसरे विकेट के रूप में आउट हुए। रविंद्र जडेजा ने नाबाद 30 और 7वें नंबर पर बल्लेबाजी करने उतरे विराट कोहली ने 27 रन का योगदान दिया।


जानकार बताते हैं कि लक्ष्य का पीछा करने उतरी श्री लंकाई टीम ने भी कमाल की बल्लेबाजी की। दिलशान (160) ने उपुल थरंगा (67) के साथ मिलकर पहले विकेट के लिए 188 रन जोड़े। उन्होंने कप्तान कुमार संगकारा (90) के साथ दूसरे विकेट के लिए 128 रन की पार्टनरशिप की। दिलशान टीम के 339 के स्कोर पर चौथे विकेट के रूप में आउट हुए। उन्होंने 124 गेंदों पर 20 चौके और 3 छक्के लगाए।


आपकी जानकारी के लिए बता दें कि दोनों टीमों की ओर से बनाए गए कुल रनों के लिहाज से यह दूसरा सबसे बड़ा स्कोर है। इससे पहले साल 2006 में साउथ अफ्रीका और ऑस्ट्रेलिया के बीच 12 मार्च को जोहानिसबर्ग में खेले गए मुकाबले में दोनों टीमों का कुल स्कोर 872 रन था। तब ऑस्ट्रेलिया ने 4 विकेट पर 434 रन बनाए जिसके जवाब में हर्षल गिब्स (175) की तूफानी पारी की बदौलत साउथ अफ्रीका ने 49.5 ओवर में 9 विकेट पर 438 रन बनाकर मैच जीत लिया।