13 की दुल्हन से शादी करने पहुंचा 45 का दुल्हा, ग्रामीणों ने बरात को खदेड़ा

नई दिल्ली ( 21 जनवरी ): उत्तराखंड में किच्छा क्षेत्र के ग्राम राघवनगर में शनिवार को एक नाबालिग के साथ पंजाब निवासी अधेड़ विवाह करने पहुंच गया। वह विवाह की रस्म पूरी कर पाता इससे पहले इसकी जानकारी एक एनजीओ को लग गई। उसकी पहल पर पुलिस ने मौके पर पहुंच न केवल शादी को रुकवाया, बल्कि बरात को भी खदेड़ दिया।

ग्राम राघवनगर निवासी राम निवास ने अपनी 13 वर्षीय बेटी की शादी राधेश्याम (45) पुत्र मोहन लाल निवासी फाजिल्का पंजाब के साथ तय की थी। शनिवार को जब बरात गांव में पहुंची तो दूल्हा दुल्हन की जोड़ी को देख ग्रामीण दंग रह गए।

शादी की सूचना ग्रामीणों ने एक स्वयं सेवी संस्था महिला कल्याण समिति की संचालिका हीरा जंगपांगी के साथ ही पुलिस व जिला प्रशासन को दी। संचालिका स्वयं मौके पर पहुंची। पुलिस ने शादी को रुकवाने के बाद दूल्हे के विषय में जानकारी ली तो उसके राशन कार्ड में उसकी उम्र 45 वर्ष दर्ज मिली।

पुलिस ने जब इस शादी पर दोनों परिवारों पर कानूनी कार्रवाई की बात कही तो बरातियों के माफी मांग लेने व गांव के ही कुछ लोगों के बीच-बचाव करने पर पुलिस ने दूल्हे व उसके साथ आए लोगों को चेतावनी दे गांव से खदेड़ दिया।