नक्सली हमले में शहीद हुए 12 कमांडो, 5-5 लाख मुआवजा देगी नीतीश सरकार

नई दिल्ली (19 जुलाई): बिहार में नक्सलियों द्वारा किए गए सीरियल आईईडी विस्फोट में सीआरपीएफ कमांडो के 12 जवान शहीद हो गए। वहीं चार नक्सलियों के मारे जाने की पुष्टि हो चुकी है। बिहार सरकार ने इन शहीदों के परिवारों को पांच-पांच लाख रुपए का मुआवजा देने की घोषणा की है। वहीं गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने नक्सली मुठभेड़ मामले में बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार से बात की और पूरे घटनाक्रम की जानकारी ली। गृहमंत्री ने मुठभेड़ में शहीद हुए जवानों के प्रति अपनी गहरी संवेदना व्यक्त की है और इसके बारे में मुख्यमंत्री से विस्तृत बातचीत की।

> गया में शहीद हुए CRPF कमांडो के परिवारों को 5 लाख रुपये मुआवजा देगी बिहार सरकार। > घात लगाकर बैठे नक्सलियों ने बड़ा हमला किया।  > सीआरपीएफ की कोबरा बटालियन के 12 कमांडो शहीद। > नक्सलियों ने लैंडमाइन्स बिछाकर सुरक्षाबलों को निशाना बनाया। > मुठभेड़ के दौरान दोनों तरफ से 500 राउंड से ज्यादा गोलियां चलीं। > चाकरबंदा के जंगल में कोबरा के कमांडो को निशाना बनाने के लिए जगह-जगह आईईडी बिछा रखे थे। कमांडो उन्ही लैंडमाइन का शिकार बने।  > मुठभेड़ में 4 नक्सली मार गिराए गए। जंगल में अतिरिक्त फोर्स भेजकर बाकी नक्सलियों की तलाश जारी। > खराब मौसम की वजह से घायल कमांडों को जंगल में ही रहना पड़ा। बाद में हेलिकॉप्टर और गया से एंबुलेंस भेजकर पटना में एडमिट कराया गया।