विक्रम विश्वविद्यालय से 11 कश्मीरी छात्र गायब...

आनंद निगम, उज्जैन (26 जुलाई): उज्जैन के विक्रम विश्वविद्यालय से पीएचडी कर रहे 11 कश्मीरी छात्र सिंहस्थ से पहले अपने घर गए, लेकिन अभी तक नहीं लौटे। करीब 3 महीने से अधिक का समय बीत जाने के बाद छात्रों के नहीं आने पर ख़ुफ़िया एजेंसी सतर्क हो गई है। इसके बाद विश्वविद्यालय ने सभी के घर पत्र लिख कर जानकारी मांगने की तैयारी कर ली है।

कश्मीरी छात्रों की जानकारी ख़ुफ़िया विभाग पहले से ही रखता है, लेकिन अब कुछ दिनों से कश्मीर में बिगड़े हालात को लेकर आईबी सहित सभी एजेंसी सतर्कता बरते हुए है। दरअसल उज्जैन विक्रम विश्वविद्यालय में 13 कश्मीरी छात्र अलग-अलग विषयों में पीएचडी कर रहे है। छात्र सिंहस्थ से पहले कश्मीर गए थे, जिसमे जावेद अहमद भट्ट, अरफत अहमद वाणी, लतीफ़ अहमद मीर, जावेद अफजल भट्ट, माईमर जलानी, रउफ उर रफीक, मुजफ्फर अहमद, अशरफ गनई, इन्तिखाब आलम, मुश्ताक अहमद, इक्तिकार शरीफ, तारिक अहमद और शब्बीर अहमद लोन शामिल हैं।

इनमें से दो छात्र मुस्ताक अहमद और शब्बीर अहमद लोन वापस लोट आए है, लेकिन बचे 11 छात्रों का कोई पता नहीं है। इस बात को लेकर विश्वविधायल में भी हड़कंप मचा हुआ है। इसे लेकर जल्द ही सभी 11 छात्रों के घर पर एक पत्र भेजा जा रहा है ताकि जानकारी लग सके कि पिछले 3 महीने से अधिक समय से ये कहां है और वापस लौटकर क्यों नहीं आये।