फूलों की घाटी में गंदगी करने पर देने होंगे 10 हजार

नई दिल्ली (15 मार्च): अगर आप चमोली जिले में प्राकृतिक विश्व धरोहर फूलों की घाटी में जा रहे हैं तो इस खबर को जानना आपके लिए बेहद जरूरी है। अगर आपने यहां पर कोई प्लास्टिक कचरा और गंदगी फेंकी तो आपको 10 हजार रुपये जुर्माना देना पड़ेगा।

इस संबंध प्रमुख वन्य जीव प्रतिपालक दिग्विजय सिंह खाती ने आदेश जारी कर दिया है। इसके साथ ही फूलों की घाटी में घूमकर लौटने वालों को अपना सामान चेक कराना पड़ेगा कि कहीं कोई सामान घाटी में छूट तो नहीं गया।

 

- उत्तराखंड के चमोली जिले में फूलों की घाटी यूनेस्को प्राकृतिक विश्व धरोहर घोषित है।

- यहां देश-विदेश के सैलानी विभिन्न प्रजातियों के फूलों को देखने के लिए आते हैं।

- सैलानी अपने साथ प्लास्टिक की बोतलें, पॉलीथिन के पैकेज आदि लाते हैं।

- जाते वक्त घाटी में कचरा, बचा खाना आदि छोड़कर चले जाते हैं।

- इससे यहां के पर्यावरण को नुकसान होता है।

- हाईकोर्ट के सख्त आदेश के मद्देनजर फूलों की घाटी में पॉलीथिन को प्रतिबंधित कर दिया गया है।