गुजरात की घटना से बेहद नाराज़ हैं 1000 दलित, 'बौद्ध धर्म' की शरण जाएंगे

नई दिल्ली (27 जुलाई): गुजरात के ऊना में दलितों की पिटाई का मामला अब और तूल पकड़ता जा रहा है। पिटाई से नाराज बनासकांठा जिले में दलित समुदाय के करीब एक हजार लोगों ने बौद्ध धर्म अपनाने की इच्छा जताई है। 

- रिपोर्ट के मुताबिक, लोगों का कहना है कि यदि उनसे बराबरी का व्यवहार नहीं किया जाए, तो हिंदू धर्म में रहने का कोई मतलब नहीं है। - दलित समुदाय के इन सदस्यों ने फॉर्म भरा है, जिसमें उन्होंने धर्मांतरण के लिए अपनी सहमति दी है।  - इसे जल्द ही अधिकारियों को सौंपा जाएगा।  - इस बीच विभिन्न दलित संगठनों ने 31 जुलाई को समुदाय की एक रैली आयोजित करने का निर्णय किया है। - रैली में आंदोलन की आगे की रूपरेखा तय की जाएगी।