बिहार के एससी/एसटी बहुल गांवों में खुलेंगे 100 बीपीओ: रविशंकर प्रसाद

नई दिल्ली ( 15 अप्रैल ): केंद्रीय संचार एवं सूचना प्रौद्योगिकी तथा कानून न्याय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने शनिवार को डॉ भीमराव आंबेडकर की 127 वीं जयंती के मौके पर अनुसूचित जाति (एससी) एवं अनुसूचित जनजाति (एसटी) आबादी बहुल गांवों में 100 बीपीओ खोलने और उसकी कमान इसी समुदाय के हाथों में देने की घोषणा की। डॉ.बीआर आंबेडकर के विजन और मिशन विषय पर कॉमन सर्विस सेंटर (सीएससी) के माध्यम से हुए दलित सशक्तीकरण कार्यक्रम में रविशंकर प्रसाद ने यह बातें कहीं। 

इसमें राज्य भर से आए 300 दलितों के बीच केंद्रीय मंत्री ने कहा कि दूसरे दलों की तरह हम केवल वोट की बात नहीं करते हैं। एससी-एसटी बस्तियों में जो बीपीओ खुलेंगे उसमें पांच-दस महिलाओं को प्रत्यक्ष रोजगार मिलेगा। बिहार के हर जिले के एक-एक गांव को डिजिटल (डिजि गांव) बनाया जाएगा। देश में छह करोड़ गरीब परिवारों को डिजिटल साक्षर किया जाएगा।

केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने कहा कि एससी-एसटी के लोगों को शिक्षित बनाने के लिए मिशन मोड में डिजिटल प्रोग्राम शुरू होगा। कॉमन सर्विस सेंटर में जल्द ही रेल टिकट भी मिलेगा। इसके लिए रेल मंत्रालय के साथ सहमति बन चुकी है।