ऐसे ग्राहकों को घर खरीदने पर मिलेगी 2.20 लाख तक छूट


नई दिल्ली ( 23 मई ): घर का सपना देख रहे कर्मचारियों के लिए खुशखबरी है कि उनका सपना जल्द पूरा हो सकता है। इम्प्लॉई प्रॉविडेंट फंड ऑर्गनाइजेशन (ईपीएफओ) की हाउसिंग स्‍कीम के तहत अगले दो साल में 10 लाख घर बनाए जाएंगे। ईपीएफओ मेंबर्स हाउसिंग स्‍कीम के तहत ये घर खरीद सकेंगे। वहीं हाउसिंग एंड अरबन डेवलपमेंट कॉरपोरेशन लिमिटेड (हडको) ईपीएफओ मेंबर्स को घर खरीदने के लिए लोन पर सब्सिडी मुहैया कराएगी।


खबरों के मुताबिक ईपीएफओ एक हाउसिंग को-ऑपरेटिव सोसाइटी बनाएगा। इसका काम अगले दो साल में बिल्डर के जरिए देशभर में 10 लाख घर बनवाना होगा। ईपीएफओ हडको के साथ समझौता करेगा, जिसके तहत हडको ईपीएफओ मेंबर्स को घर खरीदने के लिए प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत लोन दिलाने में मदद करेगा। वो इस पर 2.20 लाख तक की सब्सिडी भी दिलाएगा। सब्सिडी लेने के लिए मेंबर सरकारी बैंक, प्राइवेट सेक्‍टर के बैंक, को-ऑपरेटिव बैंक और हाउसिंग फाइनेंस कंपनियों से लोन ले सकते हैं।


खबरों के मुताबिक हाउसिंग स्कीम के तहत घर खरीदने के लिए 10 या इससे ज्यादा ईपीएफओ मेंबर्स की सोसाइटी भी बनाई जाएंगी। ये बिल्‍डर से घर की कीमतों को लेकर मोल-भाव कर सकेंगी। ऐसा इसलिए, क्योंकि इंडिविजुअल मेंबर के लिए ऐसा करना मुश्किल होगा।


ईपीएफओ मेंबर्स घर खरीदने के लिए अपने पीएफ फंड से 90% तक रकम निकाल सकते हैं। इसके लिए ईपीएफ एक्‍ट, 1952 में बदलाव किया गया है। इसके लिए जरूरी है कि पीएफ मेंबर्स का अकाउंट कम से कम 3 साल पुराना हो।


स्‍कीम के तहत मेंबर्स अपने मंथली पीएफ कॉन्ट्रिब्‍यूशन से होम लोन की ईएमआई भी चुका सकते हैं। इसके लिए मेंबर्स को रीजनल पीएफ ऑफिस में अप्लाई करना होगा। रीजनल पीएफ ऑफिस में अप्लाई करना होगा। रीजनल पीएफ कमिश्‍नर मेंबर के मंथली कॉन्ट्रिब्‍यूशन से होम लोन की ईएमआई चुकाने की परमिशन देगा।


अगर किसी मेंबर के पीएफ अकाउंट में होम लोन की ईएमआई चुकाने के लिए जरूरी पैसा नहीं होगा तो ऐसे मामले में डिफॉल्‍ट के लिए ईपीएफओ जिम्‍मेदार नहीं होगा।


ईपीएफओ की हाउसिंग स्कीम से अफोर्डेबल हाउसिंग सेगमेंट को बढ़ावा मिलेगा और बि‍ल्‍डर इस सेगमेंट के कस्टमर्स को ध्‍यान में रखकर प्रोजेक्‍ट शुरू करेंगे। देशभर में अभी करीब 4 करोड़ ईपीएफओ एक्टिव मेंबर्स हैं।