आयकर विभाग भौंचक, 8 नवंबर के बाद 400 खातों में जमा हुए एक-एक करोड़

नई दिल्ली (22 दिसंबर):  नोटबंदी के बाद मध्य प्रदेश एवं छत्तीसगढ़ में 400 लोगों ने अपने खातों में एक-एक करोड़ या इससे अधिक रुपए जमा किये हैं। मध्यप्रदेश एवं छत्तीसगढ़ के प्रधान मुख्य आयकर आयुक्त अबरार अहमद ने बताया कि इनमें से कुछ खातों में तो चार करोड़ से पांच करोड़ रुपये तक जमा हुए हैं। आयकर आयुक्त ने बताया कि ढाई लाख से ज्यादा रकम जमा कराने वाले बैंक खातों की जांच की जा रही है। पहले दौर में एक करोड़ से ज्यादा जमा करने वालों को नोटिस दिये जा रहे हैं। बाद में सूची बना कर खातेदारों को नोटिस भेजे जाएंगे। आयकर आयुक्त ने बीजेपी नेता सुशील वासवानी के ठिकानों पर पिछले 2 दिन से चल रहे छापों की कोई जानकारी नही दी। बार-बार पूछे जाने पर उन्होंने सिर्फ इतना कहा कि जो अधिकारी इस मामले की जांच कर रहा है वह इस समय उपलब्ध नही हैं।

इस बीच यह भी पता चला है कि सुशील वासवानी ने भी 8 नवंबर के बाद अपने महानगर सहकारी बैंक के जरिए करोड़ों रुपये को सफेद किया है। वासवानी की बैंक में 10 से 15 नवंबर के बीच 100 से ज्यादा खाते खोले गये। इन खातों में मोटी रकम जमा की गयी। सूत्रों के मुताबिक 25 से ज्यादा खाते ऐसे हैं जिनमें करोड़ों रूपये जमा हुये हैं। फिलहाल आयकर विभाग महानगर सहकारी बैंक को केंद्र में रख कर ही अपनी जांच कर रहा है।