खुशखबरीः सफर में ही मिलेगा रेलयात्रियो को इलाज, ट्रेन में तैनात होंगे डॉक्टर

नई दिल्ली (10 फरवरी): भारतीय रेलवे आम आदमी के लिए एक और बड़ा कदम उठाने जा रही है। लोकसभा में रेल राज्‍यमंत्री राजेन गोहियां ने बताया कि सरकार अगले 2 साल के लिए प्रयोग के तौर पर दुरंतो ट्रेनों में डॉक्टर्स की तैनाती करेगी। यह व्‍यवस्‍था प्रयोग के तौर पर दो साल के लिए होगी। लोकसभा में रेल राज्यमंत्री ने इस योजना के बारे में बताया। रेल राज्‍यमंत्री राजेन गोहियां ने लोकसभा में बताया की, हल्‍की बीमारियों का इलाज चलती ट्रेन में ही डॉक्‍टर्स द्वारा किया जाएगा, जबकि ज्‍यादा गंभीर मरीजों को बेहतर इलाज के लिए रास्‍ते में ही ट्रेन से उतार दिया जाएगा, क्‍योंकि ट्रेन में ईसीजी मशीन जैसे उपकरण अच्‍छी तरह काम नहीं करते।

मंत्री ने यह भी बताया कि स्‍टेशन मास्‍टर को उनके स्‍टेशन के दायरे में आने वाले सभी सरकारी व निजी अस्‍पतालों की जानकारी होगी। आपातस्थिति में उनकी सेवाएं भी ली जा सकती हैं। जरूरत पड़ने पर रेलवे व राज्‍य सरकार की एंबुलेंस सेवा का भी इस्‍तेमाल किया जा सकेगा।