Blog single photo

दिग्विजय सिंह ने दी सिद्धू को सलाह, बोले-अपने दोस्त इमरान को समझाइए

पंजाब सरकार में मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू पुलवामा हमले को लेकर दिए गए बयान को लेकर विवादों में हैं। इसी मामले पर अब कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह ने पुलवामा आतंकी हमले के बाद सिद्धू को सलाह दी है। दि

                                                                                   Image: Google

न्यूज24 ब्यूरो, नई दिल्ली (19 फरवरी):  पंजाब सरकार में मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू पुलवामा हमले को लेकर दिए गए बयान को लेकर विवादों में हैं। इसी मामले पर अब कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह ने पुलवामा आतंकी हमले के बाद सिद्धू को सलाह दी है। दिग्विजय सिंह ने ट्वीट करके कहा कि नवजोत सिद्धू अपने दोस्त इमरान भाई को समझाइए, उसकी वजह से ही आपको गाली पड़ रही है। 

बता दें कि पुलवामा आतंकी हमले के पीछे पाकिस्तान के आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद शामिल था।  जैश ने ही आतंकी आदिल डार को ट्रेनिंग दी थी। इस आतंकी हमले में सीआरपीएफ के 40 जवान शहीद हो गए। इस आतंकी हमले के बाद पाकिस्तान ने जैश पर किसी तरह की कोई कार्रवाई नहीं की है। 

दिग्विजय सिंह ने पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान से भी कहा कि माननीय प्रधानमंत्री इमरान खान आतंकी हाफिज सईद और मसूद अजहर को भारत को सौंपने की हिम्मत दिखाते हैं। इससे आप पाकिस्तान को वित्तीय संकट से बाहर निकालने के साथ-साथ नोबेल शांति पुरस्कार के लिए फ्रंट रनर होंगे। 

बता दें कि पुलवामा में हुए आतंकी हमले के बाद कांग्रेस नेता और पंजाब सरकार में मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू ने कहा था कि इस तरह के कायराना आतंकी हमले के लिए पूरे देश को जिम्मेदार ठहराना ठीक नहीं है। आतंकवादियों का कई दीन और मजहब नहीं होता है। दुनिया में अच्छे, बुरे लोग हैं. हर संस्थान में ऐसे लोग होते हैं. हर देश में ऐसे लोग होते हैं. जो बुरे हैं, उसे सज़ा दी जानी चाहिए, लेकिन किसी बुरे इंसान के कायरतापूर्ण काम के लिए सबको दोष देना उचित नहीं है। 

सिद्धू के इस बयान के बाद देश के लोगों का गुस्सा भड़क गया था. बीजेपी नेताओं ने जहां सिद्धू पर सवाल खड़े किए वहीं कांग्रेस महासचिव गुलाम नबी आजाद ने सिद्धू के बयान पर कहा था कि ये समय अब पाकिस्तान के साथ बातचीत करने का नहीं है। पाकिस्तान के साथ किसी भी तरह की बातचीत करना बेवकूफी होगी। हमारे जवानों की शहादत जाया न जाए इसके लिए कड़ा जवाब देना होगा।

Tags :

NEXT STORY
Top