सरकार का बड़ा ऐलान: कार्ड से करे पैमेंट, नहीं लगेगा सर्विस टैक्स

नई दिल्ली (8 दिसंबर): नोटबंदी के बाद कैशलेस को बढ़ावा देने के लिए सरकार हर उपाय करने में लगी हुई है। अब सरकार ने ऐलान किया है कि क्रेडिट और डेबिट लेनदेन पर सर्विस टैक्स नहीं देना पड़ेगा। हालांकि अभी सिर्फ 2000 रुपये के भुगतान पर ही सर्विस टैक्स को छूट दी गई है।

आपको बता दें कि इससे पहले आईआरसीटीसी ने भी नोटबंदी की वजह से परेशान लोगों को सौगात देते हुए 31 दिसंबर 2016 तक ऑनलाइन टिकटों की बुकिंग पर लगने वाला सर्विस चार्ज हटाने का फैसला किया था।

हाल में जारी हुए ये नए आदेश...

- केंद्रीय वित्‍तमंत्री अरुण जेटली ने हाल में सरकारी कार्यों में नकदी का इस्‍तेमाल कम करने के लिए नए आदेश जारी किए।

- उन्‍होंने सभी सरकारी विभागों से कहा है कि वे वेंडरों और ठेकेदारों को 5,000 रुपए से ज्‍यादा नकदी का भुगतान न करें।

- इस साल अगस्‍त तक ऐसे सभी नकद भुगतानों के लिए 10,000 रुपए की सीमा जोड़ दी है।

- वित्‍त मंत्री द्वारा अनुमोदित, व्‍यय विभाग द्वारा सोमवार को जारी किए गए ज्ञापन में, मंत्रालयों से कहा गया है कि वह 5,000 रुपए से ज्‍यादा के बकाया के भुगतान के लिए ई-पेमेंट सुविधाओं का प्रयोग करें।