कॉमेडियन पड़ा प्रधानमंत्री पर भारी, देना पड़ा इस्तीफा...!

नई दिल्ली (11 दिसंबर): इस वर्ष ब्रेग्जिट पर जनमत संग्रह के बाद डेविड कैमरुन की कुर्सी गई तो पिछले दिनों इटली में संविधान में बदलाव को लेकर हुए जनमत संग्रह के बाद यहां के प्रधानमंत्री मैटियों रेंजी की कुर्सी गई। पीएम रेंजी की इस कुर्सी की एक वजह इटली के मशहूर कॉमेडियन बैपे ग्रिल्‍ला का भी हाथ है। सीएनएन की एक रिपोर्ट के मुताबिक इटली के पीएम रेंजी संविधान में बदलाव करके सीनेट की शक्तियों को कम करना चाहते थे। उन्‍होंने इस पर जनता की राय मांगी और यह जनमत संग्रह उनके लिए मुसीबत बन गया। जनमत संग्रह में करीब 60 प्रतिशत लोगों ने पीएम के प्रस्‍ताव के खिलाफ वोट दिया। कहा जा रहा है कि ग्रिल्‍लो ने जनता के नजरिए को प्रभावित किया। ग्रिल्‍लो ने इस जनमत संग्रह के खिलाफ अभियान शुरू किया था और उन्‍होंने लोगों से अपील की कि वे इसके खिलाफ वोट करें।