Saturday, July 4, 2020

Corona Virus: चीन में 2 करोड़ मोबाइल फोन बंद? वुहान में कई गुना ज्यादा है कोरोना वायरस से मौत का आंकड़ा!

चीन की सरकार ने कोरोना वायरस से मरने वालों के जो आंकड़े जारी किये हैं उन पर संशय पैदा होने लगा है। क्यों कि अमेरिका, इटली, स्पैन और इंग्लैण्ड के अलावा अन्य देशों में कोरोना से संक्रमितों के मरने की संख्या और चीन के आंकड़ों में जमीन आसमान का फर्क है। शक जाहिर किया जा रहा है कि चीन की सरकार ने कोरोना से मरने वालों का असली आंकड़ा दुनिया से छुपाया है।

नई दिल्ली। चीन के कोरोना शहर वुहान में जैसे-जैसे लॉत डाउन में ढील दी जा रही है वैसे-वैसे कोरोना वायरस का शिकार बने लोगों की सच्चाई सामने आ रही है। ऐसा कहा जा रहा है कि चीन की शी जिनपिंग सरकार ने कोरोना वायरस से मरने वालों की संख्या को दुनिया से छुपा कर रखा है। चीन की कम्युनिस्ट सरकार के झूठ की पोल दो बातों से खुल कर सामने आ रही है। पहली यह कि वुहान के एक इलाके से अचानक पांच हजार अस्थिकलशों की मांग आयी है। कहा जा रहा है कि अगर पूरे चीन में अगर कोरोना वायरस की वजह से मात्र 3,300 लोगों की मौत हुई है तो फिर अकेले वुहान की एक मार्केट से अचानक 5,000 अस्थिकलश की मांग क्यों आ गयी। इसका मतलब यह भी है कि जैसे-जैसे वुहान के शवदाह गृहों में शवों का अंतिम संस्कार होगा वैसे-वैसे मृतकों की असली संख्या उजागर होती रहेगी।

दूसरा एक और कारण यह है कि ह्वैई प्रांत में इस वक्त दो करोड़ मोबाइल फोन नंबर बंद हैं। इन मोबाइल नंबरों के बंद होने से कोरोना वायरस से मृतकों की संख्या पर संशय और गहरा रहा है। हालांकि चीन की सरकार का पक्ष रखने वालों का कहना है कि ये यभी नंबर वुहान और आस-पास के कारखानों में काम करने वाले मजदूरों के हैं। जैसे ही कारखाने चालू होंगे वैसे ही ये नंबर भी चालू हो जायेंगे। कई इंटरनेशनल संगठनों ने सवाल उठाया है कि कारखानों के बंद होने से मोबाइल फोन नंबर बंद होने से क्या संबंध।

तीसरी वजह यह है कि कोरोना वायरस चीन से फैला मगर इससे मरने वालों के आंकड़े इटली, स्पेन, अमेरिका और इंग्लैण्ड और फ्रांस से अलग कैसे हैं। क्यों कि वायरस का असर तो ह्युमन बॉडी पर एक जैसा ही होता है तो चीन में मृतकों का आंकड़ा दुनिया के बाकी देशों में मारे लोगों की संख्या से अलग कैसे है।
कुछ संगठनों का कहना है कि चीन में मीडिया आजाद नहीं है। इसलिए बहुत मुश्किल है कि कोरोना से मरने वालों के सही आंकड़े दुनिया के सामने आ पायें। फिर भी जो सच्चाई सामने आ रही है या आयेगी उस पर चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग को दुनिया के सामने आकर स्पष्टीकरण तो देना ही होगा।

कोरोना वायरस की वजह से दुनिया में 30 हजार से ज्यादा लोगों की मौत हो चुकी है। जबकि छह लाख से अधिक संक्रमित हैं। इसके अलावा दुनियाभर में 65 हजार नए मामले सामने आए हैं। वहीं यह वायरस सबसे पहले चीन में फैला और इसने वहां 81,439 लोगों को संक्रमित किया। इटली में चीन से तीन गुना से ज्यादा लोगों की जान गई है। इटली में 92,472 लोग कोरोना से संक्रमित हुए हैं और 10 हजार से अधिक लोगों की जान जा चुकी है। अमेरिका में संक्रमितों की संख्या एक लाख से अधिक हो चुकी है और दो हजार की जान जा चुकी है। अमेरिका में चीन की तुलना में काफी देर से वायरस का संक्रमण फैला है।

1 COMMENT

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

पाकिस्तान में भीषण बस-ट्रेन हादसा, 19 सिख तीर्थयात्रियों की मौत

लाहौर। पाकिस्तान में लाहौर के पास शेखपुरा जिले में एक यात्री बस और ट्रेन के बीच शुक्रवार को हुई टक्कर में कम से कम...

MP Board 10th Result 2020: सबसे पहले एक क्लिक पर यहां देखें अपना स्कोर, रिजल्ट देखने का सबसे आसान तरीका

MPBSE MP Board 10th result 2020: मध्य प्रदेश माध्यमिक शिक्षा मंडल (MPBSE) यानि एमपी बोर्ड द्वारा आयोजित 10वीं की बोर्ड परीक्षा देने वाले छात्रों...

NEET 2020 and JEE Mains 2020: नीट और जेईई परीक्षा एक बार फिर हुई स्थगित, अब इस नई तारीख को होगी आयोजित

NEET 2020 and JEE Mains 2020:  देश  भर में फैले कोरोनावायरस के कारण कई बड़ी परीक्षाएं या तो स्थगित कर दी गई है या...

दिल्ली-एनसीआर में भूकंप के तेज झटके, देखें 2 महीने में कितने बार कांपी धरती

नई दिल्ली। दिल्ली-एनसीआर में शाम 7 बजे भूकंप के तेज झटके महसूस किए गए। पिछले दो महीने में यह 14वां झटका है। भूकंप का...