TrendingExit Polls 2023Rajasthan Assembly Election 2023Madhya Pradesh Assembly Election 2023Chhattisgarh Assembly Election 2023

---विज्ञापन---

आर्मी-एयरफोर्स और नेवी में जाने के इच्छुक युवाओं के लिए खुशखबरी, Agniveer भर्ती में हो सकता बड़ा बदलाव

Agniveer Recruitment Rules Update: भारतीय सेना, एयरफोर्स और नेवी में भर्ती होने के इच्छुक युवाओं के लिए खुशखबरी है। अग्निवीर भर्ती में जल्दी ही बड़ा बदलाव हो सकता है। अगर यह बदलाव हो गया तो करीब 50 फीसदी युवाओं के पक्के होने का रास्ता साफ हो जाएगा। अग्निवीर भर्ती के तहत तीनों सेनाओं में अभी […]

Edited By : Khushbu Goyal | Updated: Sep 25, 2023 17:46
Share :
Agniveer Recruitment

Agniveer Recruitment Rules Update: भारतीय सेना, एयरफोर्स और नेवी में भर्ती होने के इच्छुक युवाओं के लिए खुशखबरी है। अग्निवीर भर्ती में जल्दी ही बड़ा बदलाव हो सकता है। अगर यह बदलाव हो गया तो करीब 50 फीसदी युवाओं के पक्के होने का रास्ता साफ हो जाएगा। अग्निवीर भर्ती के तहत तीनों सेनाओं में अभी पहला बैच ही आया है। हालांकि अभी आधिकारिक तौर पर कुछ नहीं कहा गया है, लेकिन अगली भर्ती से पहले सरकार भर्ती को लेकर बड़ा फैसला लेने की तैयारी में है।

यह भी पढ़ें: SBI Recruitment: स्टेट बैंक में नौकरी का सुनहरा मौका, 2 हजार पदों पर भर्ती निकली, करीब 60 हजार सैलरी

अभी 4 साल के लिए तीनों सेवाओं में भर्ती होते जवान

भर्ती के मौजूदा नियमों के मुताबिक, अभी सेना में शामिल होने वाले करीब 25 फीसदी युवाओं को ट्रेनिंग के बाद पक्का कर दिया जाता है, लेकिन नया नियम लागू हुआ तो इस प्रतिशतता को बढ़ाकर 50 फीसदी किया जा सकता है। सूत्रों के मुताबिक, प्रस्तावित स्कीम को लेकर सुझाव मांगे जा रहे हैं। वहीं बदलाव करने का मकसद युवाओं को ट्रेनिंग के बाद लंबे समय तक रोकना है। अभी 4 साल के लिए भर्ती किया जाता है। ट्रेनिंग में एक डेढ़ साल लग जाता।

यह भी पढ़ें: सरकारी नौकरी पाने का मौका, 11 हजार पदों पर भर्ती के लिए 12वीं पास आवेदन करें, सैलरी हजारों में होगी

टेक्निकल काम सिखाकर लंबे समय तक रोकना मकसद

ट्रेनिंग के बाद जब वे काम सीख जाते तो रिटायरमेंट का समय हो जाता है। इसके बाद फिर नए आने वाले बैच के साथ यही प्रक्रिया अपनाई जाती है। इस तरह बैच वाइज सिस्टम चलता और ट्रेनिंग में ही 4 साल का समय पूरा हो जाता। एयरफोर्स और नेवी में ज्यादातर टेक्निकल काम होते। ऐसे में युवाओं को उन तकनीकी कामों को सिखाने के बाद आर्मी, एयरफोर्स और नेवी में रोककर रखने के लिए बदलाव करने पर विचार किया जा रहा है।

First published on: Sep 25, 2023 05:44 PM

---विज्ञापन---

संबंधित खबरें
Exit mobile version