Friday, July 10, 2020

अधिकारियों के नाम फर्जी ID बनाकर उगाही करने वाला शातिर गिरफ्तार, पूछताछ में हुआ यह बड़ा खुलासा

आईएस, आईपीएस, आईआरएस अधिकारियों के नाम से फर्जी फेसबुक आईडी बनाकर ठगने वाले एक शख्स  को गौतमबुद्ध नगर पुलिस ने  गिरफ्तार किया है। दरअसल पुलिस को सूचना मिली थी  की  आईपीएस अधिकारी राहुल भाटी की फर्जी फेसबुक आईडी से  फ्रेंड रिक्वेस्ट भेज कर पैसों की मांग की जा रही है।

राहुल प्रकाश, नई दिल्ली: आईएस, आईपीएस, आईआरएस अधिकारियों के नाम से फर्जी फेसबुक आईडी बनाकर ठगने वाले एक शख्स  को गौतमबुद्ध नगर पुलिस ने  गिरफ्तार किया है। दरअसल पुलिस को सूचना मिली थी  की  आईपीएस अधिकारी राहुल भाटी की फर्जी फेसबुक आईडी से  फ्रेंड रिक्वेस्ट भेज कर पैसों की मांग की जा रही है। जिसके बाद  कई धाराओं के तहत मामला दर्ज कर पुलिस ने मामले की तहकीकात शुरू की।

जिसके बाद सूरजपुर की भाटी कॉलोनी से  रवि नाम के शख्स को गिरफ्तार किया गया। पूछताछ के दौरान आरोपी ने बताया कि उसने अपने रिश्तेदार अशोक सिंह जो सूरजपुर के भाटी कॉलोनी में किराए पर रहता है। उसी के मोबाइल से आईपीएस राहुल भाटी की फर्जी फेसबुक आईडी बनाकर उनके रिश्तेदार और जानकारों से पेटीएम वॉलेट के माध्यम से पैसे मांगने की डिमांड की। यही नहीं इस आरोपी ने बताया कि वह आईएस अंकुर भाटी आईएस अनुज प्रताप सिविल सर्वेंट आशीष चौहान की फर्जी फेसबुक आईडी बनाकर पैसों की मांग कर चुका है।

जांच में यह भी साफ हुआ है कि यह दिल्ली दिल्ली के अंदर भी आईपीएस राजवीर सिंह से के नाम की फेसबुक आईडी बनाकर पैसे ठगने की कोशिश कर चुका है और स्पेशल सेल की गिरफ्तारी के बाद यह जेल भी जा चुका है। यही नहीं सूरजपुर थाने में इसी मामले से यह गिरफ्तार हो चुका है लेकिन लॉक डाउन के दौरान कोरोना वायरस के चलते पैरोल पर जेल से बाहर है और दोबारा अधिकारियों की फर्जी आईडी बनाकर यह लगातार पैसे की डिमांड कर रहा था।

पूछताछ में उसने बताया कि 12वीं कक्षा तक पढ़ा है। आईपीएस, आईआरएस, आरआईएस अधिकारियों की फर्जी आईडी बनाकर यह अपने रिक्वेस्ट भेज कर पैसे डिमांड करता था। उसने यह भी बताया कि आईपीएस अभिनय शर्मा की फेसबुक आईडी बनाकर इसमें सुरजीत नाम से व्यक्ति से ₹56000  भी लिए थे इसी मामले में यह जेल भी जा चुका है।

पुलिस के मुताबिक यह बड़ा शातिर है और आईएएस आईपीएस आईआरएस और उन तमाम बड़े अधिकारियों की फर्जी फेसबुक आईडी बनाकर इस तरीके के काम को कर रहा था। इसका खास मकसद यही होता था कि अगर कोई अधिकारी की आईडी से अगर कोई दूसरे दोस्त को अपने दोस्त से पैसे की डिमांड करे तो कहीं ना कहीं पैसे दे देता था क्योंकि यह पहले भी कर चुका था ऐसा ही काम। फिलहाल आरोपी गिरफ्त में है और पुलिस मामले की जांच कर रही है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

चित्रकूट में लड़कियों के यौन शोषण पर बोले राहुल गांधी- क्‍या ये ही हमारे सपनों का भारत?

रमन झा, नई दिल्ली: कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी किसी ना किसी मुद्दे को लेकर आए दिन केंद्र सरकार को सवालों में घेर...

विकास ने पुलिस से कहा, मैं विकास दुबे हूं कानपुर वाला

https://www.youtube.com/watch?v=40SA8PcdbDY कानपुर कांड का मास्टरमाइंड विकास दुबे को एमपी के उज्जैन से गिरफ्तार कर लिया गया है। आज सुबह विकास दुबे उज्जैन महाकाल मंदिर पहुंचा...

विकास दुबे के दो और साथी एनकाउंटर में ढेर

https://www.youtube.com/watch?v=OSko0EfaskY विकास दुबे के दो और साथी एनकाउंटर में मारे गए हैं। कानपुर में प्रभात मिश्रा मारा गया जबकि इटावा में बउअन को पुलिस ने...

जम्मू कश्मीर में 6 पुलों का उद्घाटन करेंगे राजनाथ

https://www.youtube.com/watch?v=8iN74Tg1Wz0 रक्षामंत्री राजनाथ सिंह चीन से जारी सीमा तनाव के बीच जम्मू कश्मीर में BRO द्वारा बानाए गए 6 महत्वपूर्ण पुलों का उद्घाटन का करेंगे।...