Thursday, July 2, 2020

बस विवाद पर कांग्रेस में फूट! विधायक अदिति सिंह ने अपनी ही पार्टी पर उठाए सवाल

प्रवासी मजदूरों की बस द्वारा अवाजाही के प्रकरण मामले में कांग्रेस अध्यक्षा सोनिया गांधी के संसदीय क्षेत्र रायबरेली सदर की विधायक अदिति सिंह ने ट्वीट करके कांग्रेस पर सवाल उठाए और कहा, "आपदा के वक्त ऐसी निम्न सियासत की क्या जरूरत,एक हजार बसों की सूची भेजी, उसमें भी आधी से ज्यादा बसों का फजीर्वाड़ा, 297 कबाड़ बसें, 98 आटो रिक्शा व एबुंलेंस जैसी गाड़ियां, 68 वाहन बिना कागजात के, ये कैसा क्रूर मजाक है, अगर बसें थीं तो राजस्थान,पंजाब, महाराष्ट्र में क्यूं नहीं लगाई।"

नई दिल्‍ली: भले ही यूपी के लिए जाने वाले मजदूरों को बस मिले या ना मिले, लेकिन इसपर राजनीति जमकर हो रही है। कांग्रेस और बीजेपी एक-दूसरे पर आरोपों की झड़ी लगाने से नहीं चूके रहे हैं। हालांकि इस मामले में नया मोड़ उस समय आ गया जब कांग्रेस की विधायक अदिति सिंह कांग्रेस पार्टी के खिलाफ खड़ी हो गईं।

प्रवासी मजदूरों की बस द्वारा अवाजाही के प्रकरण मामले में कांग्रेस अध्यक्षा सोनिया गांधी के संसदीय क्षेत्र रायबरेली सदर की विधायक अदिति सिंह ने ट्वीट करके कांग्रेस पर सवाल उठाए और कहा, “आपदा के वक्त ऐसी निम्न सियासत की क्या जरूरत,एक हजार बसों की सूची भेजी, उसमें भी आधी से ज्यादा बसों का फजीर्वाड़ा, 297 कबाड़ बसें, 98 आटो रिक्शा व एबुंलेंस जैसी गाड़ियां, 68 वाहन बिना कागजात के, ये कैसा क्रूर मजाक है, अगर बसें थीं तो राजस्थान,पंजाब, महाराष्ट्र में क्यूं नहीं लगाई।”

उन्होंने एक अन्य ट्वीट में लिखा, “कोटा में जब यूपी के हजारों बच्चे फंसे थे तब कहां थीं ये तथाकथित बसें, तब कांग्रेस सरकार इन बच्चों को घर तक तो छोड़िए,बार्डर तक ना छोड़ पाई, तब योगी आदित्यनाथ ने रातों रात बसें लगाकर इन बच्चों को घर पहुंचाया, खुद राजस्थान के सीएम ने भी इसकी तारीफ की थी।”

बता दें कि कोरोना संकट में हुई महाबंदी में प्रवासी मजदूरों की घर वापसी को लेकर भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) की सरकार और कांग्रेस के बीच सियासी जंग तेज हो गई है। मंगलवार को आगरा जिले के फतेहपुर सीकरी क्षेत्र में यूपी-राजस्थान बॉर्डर पर दिनभर अफरा-तफरी का माहौल रहा। इस दौरान जो घटनाक्रम हुआ, उससे प्रदेश की सियासत में काफी गरम है।

महासचिव प्रियंका गांधी की ओर से मंगलवार को भेजी गईं बसों को राजस्थान-आगरा सीमा पर रोके जाने की सूचना पर बवाल मच गया। यूपी के कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू सहित कई नेता पहुंच गए। कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू को राजस्थान सीमा पर धरनास्थल चैमा शाहपुर से गिरफ्तार कर लिये गये। आगरा पुलिस कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष को बुधवार दोपहर में न्यायालय में पेश करेगी। देर रात तक स्थानीय कांग्रेसी पुलिस लाइन के बाहर डटे रहे थे। आज सुबह भी कांग्रेसियों का पुलिस लाइन के बाहर जुटना शुरू हो गया। इसे देखते हुए जिला प्रशासन ने पुलिस लाइन के आसपास पीएसी तैनात कर दी है। सभी वाहनों को जांचा जा रहा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recipe: गर्मी और कोरोना दोनों से बचाएगी ये स्पेशल ड्रींक, जानिए इसकी क्विक रेसिपी

नई दिल्ली। इस समय न सिर्फ गर्मी बल्कि कोरोना वायरस से सुरक्षित रहने के लिए ऐसी चीजों का इस्तेमाल या सेवन करना बेहद जरूरी...

नेपाल में सियासी हलचल तेजः राष्ट्रपति मिले प्रचण्ड और ओली, देश के नाम संबोधन में पीएम के इस्तीफे की अटकलें!

नई दिल्ली। नेपाल की राजधानी काठमाण्डु में सियासी गतिविधियां बहुत तेजी से बदल रही हैं। गुरुवार की सुबह से बैठकों का दौर-दौरा जारी रहा।...

आपके मोबाइल फोन तक कैसे पहुंचता है? इंटरनेट क्या आपने कभी सोचा है?

नई दिल्ली। इंटरनेट का हमारे मोबाइल तक पहुंचने में काफी लम्बा प्रोसेस है लेकिन फिर भी हमारी जानकारी नैनो सेकेंड्स में एक जगह से...

वक्त के साथ होने वाले इन चार बदलावों को नजरअंदाज ना करें महिलाएं वरना भूगतना पड़ सकता है बड़ा खामियाजा

नई दिल्ली। इंसान के शरीर में समय के साथ-साथ कई सारे बदलाव होते हैं वैसे ही महिलाएं भी वक्त के साथ अपने अपने शरीर...