तमिलनाडु ब्लास्ट में NIA ने पकड़े तीन आरोपी, जानें उनकी कुंडली

एनआईए के मुताबिक प्रारंभिक जांच में यह सामने आया है कि मृतक आरोपी जेमेशा मुबीन ने आईएसआईएस से 'शपथ' लेने के बाद एक आत्मघाती हमले को अंजाम देने की योजना बनाई थी।

कोयंबटूर: राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) ने 23 अक्टूबर को तमिलनाडु में कोयंबटूर जिले के कोट्टई ईश्वरन मंदिर के सामने विस्फोट में तीन आरोपियों को पकड़ा है। बता दें घटना के दिन विस्फोटकों से लदी कार में बम विस्फोट हुआ था। एनआईए ने बुधवार को बयान में कहा कि गिरफ्तार किए गए लोगों की पहचान मोहम्मद थौफीक (25), फिरोज खान (28) और उमर फारूक (39) के रूप में हुई है। बता दें कार विस्फोट में आत्मघाती हमलावर जेमेशा मुबीन मारा गया।

 

एनआईए के मुताबिक प्रारंभिक जांच में यह सामने आया है कि मृतक आरोपी जेमेशा मुबीन ने आईएसआईएस से ‘शपथ’ लेने के बाद एक आत्मघाती हमले को अंजाम देने की योजना बनाई थी। उसका इरादा लोगों में दहशत फैलाने का था। वह एक विशेष धार्मिक आस्था के प्रतीकों और स्मारकों को व्यापक नुकसान पहुंचाने की योजना बना रहा था।

जांच से पता चला है कि आरोपी व्यक्ति उमर फारूक और फिरोज खान तमिलनाडु के नीलगिरी जिले के कुन्नोर में उमर के आवास पर जेमेशा मुबीन द्वारा आयोजित साजिश की बैठकों में हिस्सा लेते थे। वह आतंकवादी कृत्यों की योजना में जेमेशा मुबीन को समर्थन भी प्रदान करते थे। एजेंसी ने कहा कि मोहम्मद थौफीक के पास कट्टरपंथी इस्लाम से जुड़े साहित्य और किताबें थीं और विस्फोटकों की तैयारी पर हस्तलिखित नोट्स भी थे। गौरतलब है कि पहले 23 अक्टूबर को कोयम्बटूर के उक्कडम पुलिस स्टेशन में मामला दर्ज किया गया था। फिर 27 अक्टूबर को एनआईए द्वारा इस मामले में केस दर्ज किया गया।

देश और दुनिया की ताज़ा खबरें सबसे पहले न्यूज़ 24 पर फॉलो करें न्यूज़ 24 को और डाउनलोड करे - न्यूज़ 24 की एंड्राइड एप्लिकेशन. फॉलो करें न्यूज़ 24 को फेसबुक, टेलीग्राम, गूगल न्यूज़.

- विज्ञापन -
- विज्ञापन -
- विज्ञापन -
- विज्ञापन -
Exit mobile version