Odisha: तस्करी मामले में पुलिस की कार्रवाई पर भड़की भीड़, 200 लोगों ने थाने पर किया हमला

एक पुलिस अधिकारी ने नाम न छापने की शर्त पर बताया कि थाने में घुसे लोगों ने मामले को फर्जी बताते हुए पहले पुलिसकर्मियों की पिटाई की।

नई दिल्ली: ओडिशा के गजपति जिले में करीब 200 लोगों की भीड़ ने मंगलवार सुबह एक पुलिस थाने पर हमला कर दिया। दरअसल, पुलिस ने नशीले पदार्थ की तस्करी के मामले में एक युवक को हिरासत में लिया था। गांव के लोग हिरासत में लिए गए युवक को निर्दोष बताते हुए थाने पहुंचे। पुलिस से नोंकझोंक के बाद लोगों ने थाने पर हमला कर दिया और पांच पुलिसकर्मियों की पिटाई कर दी।

अभी पढ़ें PM मोदी को AAP ने लिखी चिट्ठी, नोएडा को दिल्ली का हिस्सा बनाने की मांग की, डिमांड की वजह भी बताई

युवक को हिरासत में लिए जाने का कर रहे थे विरोध

गजपति जिले के अधिकारियों ने कहा कि पुलिस ने बिश्वनाथ भुइयां नाम के एक युवक को सोमवार रात झारणपुर गांव से हिरासत में लिया था। इसकी जानकारी के बाद 6 ग्राम पंचायतों के लोग मोहना ब्लॉक के अदावा पुलिस थाने के बाहर जमा हो गए। उन्होंने बिश्वनाथ भुइयां को छोड़ने की मांग की और फिर थाने पर हमला कर दिया।

बता दें कि गजपति जिले को भांग की खेती का गढ़ माना जाता है और पुलिस नियमित रूप से इस तरह के आरोप में लोगों को उठाती है। पुलिस की कार्रवाई से गुस्साए स्थानीय लोग पहले थाने के सामने बैठ गए। थोड़ी देर बाद वे थाने के अंदर घुस गए और पुलिस पर हमला कर दिया।

पुलिसकर्मियों को जान बचाकर भागना पड़ा

एक पुलिस अधिकारी ने नाम न छापने की शर्त पर बताया कि थाने में घुसे लोगों ने मामले को फर्जी बताते हुए पहले पुलिसकर्मियों की पिटाई की। इसके बाद उन्होंने केस रिकॉर्ड फाड़ दिए। लैपटॉप, डेस्कटॉप और फर्नीचर भी तोड़ दिए। हमें अपनी जान बचाने के लिए थाने से भागना पड़ा।

पुलिस अधिकारी ने बताया कि थाने पर हमले के बाद भीड़ थाना परिसर के अंदर पुलिस थाने के कर्मचारियों के आवासीय क्वार्टर की ओर बढ़ी। भीड़ पुलिस के परिवार के सदस्यों पर भी हमला करना चाहती थी। हालांकि, भीड़ में मौजूद कुछ लोगों ने इसका विरोध किया जिसके बाद भीड़ शांत हो गई।

अभी पढ़ें बिहार: बेगूसराय में बाइक सवार बदमाशों ने की ताबड़तोड़ फायरिंग, एक की मौत, 10 घायल

उधर, थाने पर हमले की सूचना के बाद आर उदयगिरि और मोहना के पास के दो पुलिस थानों से पुलिस बल घटनास्थल पर पहुंची। पुलिस बल के पहुंचने के बाद भी ग्रामीण अपनी मांगों को लेकर थाने के सामने बैठे रहे। बता दें कि जून में भी इसी तरह के मामले में मलकानगिरी जिले के चित्रकोंडा पुलिस स्टेशन पर भी ग्रामीणों ने हमला किया था।

अभी पढ़ें –  देश से जुड़ी खबरें यहाँ पढ़ें

Click Here – News 24 APP अभी download करें

देश और दुनिया की ताज़ा खबरें सबसे पहले न्यूज़ 24 पर फॉलो करें न्यूज़ 24 को और डाउनलोड करे - न्यूज़ 24 की एंड्राइड एप्लिकेशन. फॉलो करें न्यूज़ 24 को फेसबुक, टेलीग्राम, गूगल न्यूज़.

- विज्ञापन -
- विज्ञापन -
- विज्ञापन -
- विज्ञापन -
Exit mobile version